Hollywood Coronavirus Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Education & Jobs Cricket World Cup 2023 Science & Tech Others
दुनिया में परचम लहरा रही भारतीय महिलाएं, विश्व बैंक में CFO का पद संभालेंगी अंशुला कांत

दुनिया में परचम लहरा रही भारतीय महिलाएं, विश्व बैंक में CFO का पद संभालेंगी अंशुला कांत

वर्तमान समय महिलाओं का युग है। आज के समय में कोई भी आसान नहीं है जहां पर महिलाओं ने अपना परचम ना लहराया हो। खेल, विज्ञान, राजनीति या फिर अंतरिक्ष हर जगह महिलाओं ने अपनी एक अलग छाप छोड़ी है। जब बात हो रही हो भारतीय महिलाओं की तो उनके आगे किसी और महिला की हिम्मत ही कहा जो उनके सामने टिक जाए। वर्तमान समय में भारत देश का गौरव भारतीय महिलाओं से ही है। वे भारतीय महिलाएं जिन्होंने देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी अपना एक अलग नाम बनाया है। आज हम आपको एक ऐसी ही महिला के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने विश्व बैंक में अपना एक अलग पद प्राप्त किया है। 

You Might Also Like: ऑस्ट्रेलिया में डॉक्टरेट की उपधि से सम्मानित होंगे शाहरुख खान

You Might Also Like: ऋतिक की सुपर 30 देखने के लिए अमेरिका निवासी है बेताब

You Might Also Like: जजमेंटल है क्या: ट्रेलर लांच के दौरान कंगना के इस हॉट लुक ने फैन्स पर ढाया कहर

भारतीय महिला को मिला विश्व बैंक में उच्च पद

आज की भारतीय महिलाएं सिर्फ रसोई के चूल्हे चौके तक ही सीमित नहीं रह गई है। भारत देश की महिलाओं ने अपने देश का परचम विदेशों में भी लहराने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। उन्हीं महिलाओं में से एक हैं अंशुला कान्त। अंशुला कांत ने अपनी काबिलियत के बलबूते पर वर्ल्ड बैंक के सबसे ऊंचे पद पर आसीन होने का सुनहरा मौका प्राप्त किया है। वर्ल्ड बैंक के अध्यक्ष डेविड मल्पास (David Malpass,) ने अंशुला कांत को वर्ल्ड बैंक का चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर के पद पर नियुक्ति प्रदान की है। अंशुला कांत की काबिलियत कुछ ऐसी है कि वर्ल्ड बैंक के अध्यक्ष ने उन्हें वर्ल्ड बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर की पोस्ट भी प्रदान की है। 

अंशुला कांत की पहचान

भारत के सबसे बड़े सहकारी बैंक एसबीआई बैंक में मैनेजिंग डायरेक्टर की पोस्ट पर उन्होंने काफी साल काम किया है। उनकी शिक्षा दिल्ली से श्री लेडी राम कॉलेज फॉर विमेन में पूरी हुई जहां पर उन्होंने इकोनामिक ऑनर्स से अपनी ग्रेजुएशन पूरी की। उन्होंने अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से प्राप्त की।

वर्ल्ड बैंक के प्रेसिडेंट ने भी कि उनकी तारीफ

डेविड मल्पास ने बताया कि उनकी काबिलियत ने उन्हें आज इस पद पर आसीन किया है। उन्होंने यह भी कहा कि उनको बैंकिंग सेक्टर में 35 साल का कमाल का अनुभव है। यही नहीं उनके तकनीक के इस्तेमाल को लेकर भी मैं बहुत प्रभावित हुआ हूं। एसबीआई बैंक में उन्होंने सीएफ़ओ के तौर पर अपना एक बेहतर योगदान दिया है। 

 500 विलियन डॉलर की संपत्ति को किया मैनेज

अंशुका कान्त की बेहतर काबिलियत ने उन्हें एसबीआई के साथ काफी लंबे समय तक जोड़े रखा। उनकी योग्यता कुछ ऐसी है जिसके चलते उनो ने एसबीआई के साथ अपने अटूट रिश्ते को बनाए रखते हुए अपनी सभी जिम्मेदारियां बखूबी निभाई। SBI बैंक में CFO के तौर पर अपनी योग्यता से उन्होंने 38 मिलियन डॉलर रिवेन्यू और 500 मिलियन डॉलर की कुल संपत्ति को बखूबी मैनेज किया। उन्होंने एसबीआई बैंक की स्थिरता को बनाए रखने में अपना पूरा योगदान दिया साथ ही उन्होंने कैपिटल बेस में भी काफी सुधार किये। 

 इन भारतीय महिलाओं ने भी विदेशो में लहराया अपना परचम

 अंशुका कान्त के अलावा कुछ और भी महिलाये ऐसी हैं जिन्होंने भारत देश के गौरव को विदेशों में 1 नयी पहचान दिलाई है।  कुछ ऐसी महिलाएं जिन्होंने अपनी योग्यता के चलते भारत देश का परचम और ऊंचा कर दिया है। तो आइए जान लेते हैं उन महिलाओं के बारे में भी कुछ बातें

You Might Also Like: जजमेंटल है क्या: ट्रेलर लांच के दौरान कंगना के इस हॉट लुक ने फैन्स पर ढाया कहर

You Might Also Like: बन्दूक थामे कंगना की अगली फिल्म धाकड़ का पोस्टर हुआ जारी, फैन्स के उड़ गए होश

 You Might Also Like: जबरिया जोड़ी पहला गाना आज होगा रिलीज, पैपी धुन है खास

Comments

Trending