Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Others Education & Jobs Cricket World Cup 2019 Scinece & Tech

डीएलएस मेथड क्या है और यह कैसे लागू होता है

डकवर्थ-लुईस (डीएलएस) मेथड एक मैथमेटिकल फार्मूला है जिसे मौसम या दूसरी परिस्थितियों की वजह से मैच रुक जाने के कारण दूसरी टीम के स्कोर की गणना करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है| यह आमतौर पर दूसरी टीम के लिए नए स्कोर को टारगेट करने का सबसे सटीक तरीका माना जाता है।

You Might Also Like: इस कप्तान ने दिलाए भारतीय टीम को कई बेहतरीन खिलाड़ी

डीएलएस मेथड दो महान अंग्रेज गणितज्ञफ्रैंक डकवर्थ और टोनी लुईस द्वारा तैयार की गई थी, इसलिए पहले इसका नाम डी/एल मेथीद था। इसके बाद प्रोफेसर स्टीवन स्टर्न के एक शोध को इस मेथड में इस्तेमाल किया गया और नवंबर 2014 मेंइसे डकवर्थ-लुईस-स्टर्न मेथड (डीएलएस विधि) का नाम दिया गया था।

डीएलएस मेथड कैसे काम करता है

डीएलएस मेथड दूसरी टीम के लिए एक नए टारगेट क निर्माण करने के लिए इस्तेमाल होता है| इस मेथड में दो मेन प्रिंसिपल होते हैं| पहला, खेलने के लिए बचा हुआ ओवर और दूसरा टीम के पास मौजूद विकेट| इसके अलावा दूसरी टीम द्वारा बनाए गए रन्स, विकेट और ओवर इस मेथड के द्वारा आकड़न करने के लिए बहुत जरूरी होते हैं|

You Might Also Like: ये हैं बॉलीवुड के वो 5 एक्टर्स जो हैं क्रिकेट के बहुत बड़े फैन्स

You Might Also Like: World Cup 2019: सलमान खान की भारत ही नहीं बल्कि टूर्नामेंट के बीच रिलीज होंगी बॉलीवुड की ये जबरदस्त फिल्में

इस मेथड को इस फार्मूला फार्मूला की मदद से निकालते हैं:

Team 2's par score = Team 1’s score × Team 2 resources ÷ Team 1 resources

Team 2's par score = खेल रही टीम को डीएलएस मेथड के जरिये कितने रन की जरूरत है

Team 1’s score = पहली टीम कितना रन बना चुकी है

Team 2 resources = खेल रही टीम कितना रिसोर्स इस्तेमाल कर चुकी है (कुल मात्रा परसेंट में)

Team 1 Resources = पहली टीम कितना रिसोर्स इस्तेमाल कर चुकी है

आइये उदाहरण के जरिये जानते हैं दूसरी टीम को कितने रन की आवश्यकता हो सकती है अगर पहली टीम ने पचास ओवर में 300 रन बनाए हैं|

अगर पहली टीम ने अपने सारे रिसोर्स का इस्तेमाल कर 50 ओवर में 300 रन बना लेती है और दूसरी टीम 40 ओवर में अपने 5 विकेट के नुकसान पर 250 रना बना चुकी होती है और अचानक से बारिश हो जाती है तो डीएलएस टेबल के अनुसार खेल रही टीम के पास उसका 26.1 प्रतिशत रिसोर्स बचा हुआ है| यानी वह (100-26.1=73.9) 73.9% रिसोर्स इस्तेमाल कर चुकी थी|

जबकि खेल चुकी टीम अपने सबी विकेट यूज कर चुकी थी और उसके सभी ओवर पूरे हो चुके थे| इसलिए खेल चुकी टीम यानी पहली टीम अपना 100 % रिसोर्स इस्तेमाल  कर चुकी थी|

इसलिए DLS फार्मूला के अनुसार

Team 2's par score = Team 1’s score × Team 2 resources ÷ Team 1 resources

                  = 300 × 73.9 ÷ 100

                  221.7

डीएलएस फार्मूला के अनुसार खेल रही टीम को 40 ओवर में 221.7 रन बनाने की आवश्यकता है| जबकि, टीम 40 ओवर में 200 रन ही बनाई थी| इसलिए दूसरी टीम 21.7 रन से हार गई|

अगर दूसरी टीम चालीस ओवर में 221.7 रन से ज्यादा रन बनाई होती तो जीत जाती|

कई बार कई टीम को इस नियम की वजह से परेशान भी होना पड़ता है| क्यूंकि, बताए गए उदाहरण में अगर बारिश नहीं होती तो टीम 10 ओवर में 100 रन बना भी सकती थी|

You Might Also Like: ये हैं बॉलीवुड के वो 5 एक्टर्स जो हैं क्रिकेट के बहुत बड़े फैन्स

You Might Also Like: World Cup 2019: सलमान खान की भारत ही नहीं बल्कि टूर्नामेंट के बीच रिलीज होंगी बॉलीवुड की ये जबरदस्त फिल्में

Comments

Trending