Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Others Education & Jobs Cricket World Cup 2019 Scinece & Tech

यह हैं सूखी खांसी दूर करने के कुछ आसान घरेलू उपाय - Natural Home Remedies for Dry Cough

सर्दी-खांसी होना लोगों में एक आम समस्या मानी जाती है। बदलते मौसम की वजह से इसके होने की ज्यादा संभावना रहती है। आमतौर पर खांसी दो प्रकार की होती है। सूखी खांसी और कफ युक्त या बलगम वाली खांसी। बलगम वाली खांसी की अपेक्षा सूखी खांसी ज्यादा तकलीफदायक होती है। सूखी खांसी होने पर ऐसा प्रतीत होता है जैसे गले में कुछ फंसा हुआ है। गले में खराश होने लगती है।

dry cough

गले में दर्द होना, कफ ना बनना, खांसते-खांसते हांफने लगना, थकान, नाक बंद होना आदि सूखी खांसी होने के प्रमुख लक्षण हैं। आम तौर पर यह दो से तीन हफ़्तों में ठीक हो जाती है। इसके बाद भी यदि आराम ना मिले तो डॉक्टर को अवश्य दिखाना चाहिए। सूखी खांसी में कुछ घरेलू उपाय काफी असरदार होते हैं। हम आगे आपको कुछ ऐसे ही उपायों से रुबरू कराएँगे।

You Might Also Like: एक्यूप्रेशर तकनीक है कई बीमारियों का आसान इलाज

उसके पहले जानते हैं सूखी खांसी के कुछ प्रमुख कारणों को-

1) धूल और एलर्जी

2) अस्थमा

3) गले में सूखापन

4) ठन्डे पदार्थों का अत्याधिक सेवन  

5) निमोनिया

6) धूम्रपान करना

7) संक्रमण या वायरल बीमारी का होना

8) तापमान में परिवर्तन

9) वायु प्रदूषण

10) फेंफड़े सम्बंधित बीमारी से ग्रस्त होना

घरेलू उपाय-

1) शहद- शहद चाटना खांसी के लिए एक असरदार नुस्खा माना जाता है। रात को सोने से पहले एक चम्मच शहद का सेवन करें। यह सूखी खांसी में आरामदायक  होता है।

दरअसल शहद एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है जो कि  प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और खांसी के जिम्मेदार बैक्टीरियों को खत्म करने के काम में आता है। गर्म दूध में शहद मिलाकर पीने से भी खांसी में राहत मिलती है। गर्म दूध के अलावा गर्म पानी के साथ भी शहद का सेवन किया जा सकता है।

2) तुलसी- तुलसी सूखी खांसी में रामबाण इलाज़ है। तुलसी के पत्तों की बनी चाय पीने से सूखी खांसी में आराम मिलता है। तुलसी के पत्तों का पाउडर बनाकर उसे शहद के साथ चाट सकते हैं। उसके पत्तों को पानी में उबालकर थोड़ी सी चीनी मिलाने के बाद रात को सोने के पहले सेवन करने से भी सूखी खांसी से राहत मिलती है। आप चाहें तो तुलसी के पत्तों को धुलकर कच्चा भी चबा सकते हैं।

3) अदरक- अदरक को पीसकर उसका रस निकालने के बाद शहद के साथ उसका सेवन करें। अदरक को उबालकर उसके पानी का दिन में दो-तीन बार सेवन करने से सूखी खांसी में लाभ होता है। कच्चे अदरक के टुकड़ों को शहद से साथ चबाने से भी खांसी में आराम मिलता है।

4) हल्दी- दो चम्मच हल्दी को एक ग्लास दूध में मिलाकर गर्म करे लें और थोड़ा गुनगुना हो जाने के बाद उसका सेवन करें। यह गले और सीने के दर्द में राहत देता है। एक चम्मच हल्दी में थोड़ी अजवाइन मिलाकर उसे तब तक उबालें जब तक पानी आधा ना छनक जाए। फिर उस पानी में शहद की कुछ बूंदे मिलाकर दिन में तीन बार उसका सेवन करें। ऐसा करने से सूखी खांसी में आराम मिलेगा।

5) लौंग- खांसी उठने पर लौंग तुरंत राहत देती है। कच्ची लौंग को तबे पर भूजकर चबाएं।

6) नमक- नमक के गरारे करने से सूखी खांसी में राहत मिलती है। एक छोटी चम्मच नमक को एक ग्लास पानी में मिलाकर उसका घोल तैयार कर लें और बारी-बारी से उसके गरारे करते रहें। इसकी गर्माहट गले के दर्द से भी छुटकारा दिलाती है।  

7) प्याज- खाने आदि में खाने के साथ-साथ इसके रस को शहद में मिलाकर लेने से खांसी में फायदा होगा।

8) बादाम- 5-6 बादाम को रात में सोते समय फूलने के लिए डाल दें। सुबह उठकर उसे शहद मिलाकर अच्छे से पीस लें और दिन में लगभग दो-तीन बार उसका सेवन करें। सूखी खांसी से जल्द छुटकारा मिल जाएगा।

9) लहसुन- लहसुन को पानी में उबालकर उसका काढ़ा बना लें और उसे पियें। कच्चा लहसुन चबाने से भी खांसी में आराम मिलेगा।

10) भाप लें- एक बड़े बर्तन में तेल की कुछ बूंदे डालकर उसे गर्म कर लें। गर्म करने के बाद खुद को तौलिये से ढक लें और उस पानी की भाप लें। तेल की जगह आप पानी में पुदीने की पत्तियों को डालकर भी उबाल सकते हैं। दिन में तीन-चार बार भाप लेने से सूखी खांसी में लाभ होता है।

You Might Also Like: प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती है व्हीट ग्रास

You Might Also Like: माइग्रेन के लिए उपयोगी है एक्यूप्रेशर तकनीक

Comments

Trending