Coronavirus Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Education & Jobs Cricket World Cup 2023 Science & Tech Others
विटामिन -सी की खुराक बना सकती हैं कोरोना वायरस से लड़ने में मज़बूत, जानिये कैसे  

विटामिन -सी की खुराक बना सकती हैं कोरोना वायरस से लड़ने में मज़बूत, जानिये कैसे  

कोरोना वायरस माहमारी का प्रकोप बढ़ता जा रहा हैं। 3 महीने के बाद भी इसका कहर रुकने का नाम नहीं ले रहा हैं। चीन के वुहान शहर से शुरू होने वाले कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में हाहाकार मचा दिया हैं। दुनिया के करीब 145 से ज्यादा देशों में कोरोना वायरस का कहर बरस रहा हैं। कोरोना वायरस महामारी के चलते हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताएँगे जो आपको कोरोना वायरस महामारी के समय में मदद करेंगे।

विटामिन -सी

जिस प्रकार ब्लैक टी यानि काली चाय को शरीर के इम्युनिटी बूस्टर के रूप में देखा जाता हैं उसी प्रकार विटामिन सी से भरपूर खाद्य प्रदार्थों का सेवन करने से हमारे शरीर की इम्युनिटी बढ़ती हैं। अगर हम सही तरीके से खान -पान करें तो हमारा शरीर स्वस्थ रह सकता हैं। शरीर की इम्यूनिटी लौ होने पर किसी भी वायरस और बैक्टीरिया का शरीर पर अधिक प्रभाव पड़ता है और हम जल्दी-जल्दी बीमार पड़ते हैं।

विटामिन सी या एस्कॉर्बिक एसिड पानी में घुलनशील विटामिन होता है जो हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को स्वस्थ बनाने में मदद करता हैं। हमारा शरीर विटामिन सी नहीं बना सकता है इसलिए हमें उन खाद्य पदार्थों का सेवन करना आवश्यक है जिसने हमारे शरीर को विटामिन सी मिलें।

विटामिन सी के फायदें

  • हाल ही में एक अनुसंधान से पता चलता है कि पूरे शरीर में ऊतक की वृद्धि और मरम्मत के लिए विटामिन सी आवश्यक होता है।
  • विटामिन सी को शरीर के पुराने घावों को ठीक करने, स्वस्थ हड्डियों, दांतों और अच्छी त्वचा को बनाये रखने में मदद करता है।
  • विटामिन सी एंटीऑक्सिडेंट के रूप में शरीर के मुक्त कणों से लड़ता है जो कुछ कैंसर और हृदय रोग को रोकने में मदद करता है।
  • विटामिन सी खाद्य पदार्थों से भी पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस रोग के जोखिम को कम किया जा सकता है।

विटामिन सी के स्रोत

विटामिन सी के स्रोत के रूप में सभी खट्टे फल और कुछ सब्जियां होते हैं। कई फल और सब्जियां महत्वपूर्ण विटामिन की कमी को पूरा करते हैं। विटामिन सी के स्रोतों में खट्टे फल, टमाटर, आलू, स्ट्रॉबेरी, हरे और लाल मिर्च, ब्रोकोली, ब्रसेल्स स्प्राउट्स और कीवीफ्रूट शामिल हैं। आप इन खाद्य पदार्थों का कच्चा या पकाकर खा सकते हैं। साथ ही सेम, पालक जैसे खाद्य पदार्थ हमरे शरीर को कई तरह से लाभ पहुंचाता हैं।

मेडिकल साइंस विटामिन सी के बारें में क्या कहती हैं - 

यह कहा जा रह है कि विटामिन सी की खुराक से कोरोना वायरस के पेशेंट को ठीक किया जा सकता हैं।  कुछ लोगों का यह मानना है कि न्यूयॉर्क में कोरोना के पेशेंट्स का इलाज करने के लिए विटामिन-सी की डोज दी गयी और इसके फायदें भी हुए।

विटामिन सी हमारे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बूस्ट करने में सबसे अहम रोल निभाता हैं। वास्तव में अगर हमारे शरीर में विटामिन सी की कमी होती है तो हमारे बीमार होने का खतरा बढ़ जाता है। विटामिन सी से भरपूर बहुत से खाद्य पदार्थ होते है जिसमे शामिल हैं - संतरा, अंगूर, कीनू, स्ट्रॉबेरी, बेल पेप्पर, पालक, केला और ब्रोकोली। अच्छे स्वास्थ्य के लिए विटामिन सी का दैनिक सेवन आवश्यक है क्योंकि हमारा शरीर विटामिन -सी का उत्पादन या भंडारण नहीं कर पाता है। विटामिन सी इतने सारे खाद्य पदार्थों में शामिल होता है इसलिए ज्यादातर लोगों को विटामिन सी का पूरक लेने की आवश्यकता नहीं होती है।

शरीर के इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए विटामिन-सी का सेवन किया जाता है। हम चाहे तो हम विटामिन सी खाने वाले भोजन में शामिल कर सकते हैं। विटामिन सी हमारे शरीर के इम्यून सिस्टम को मज़बूत बनाकर बिमारियों से लड़ने में सक्षम बनाता है। विटामिन सी के फायदों को देखकर कोरोना वायरस से निपटने के लिए डॉक्टरों ने इसका इस्तेमाल कोरोना पीड़ित लोगों पर किया तो इसका असर देखने को मिला।

विटामिन सी और कोरोना वायरस का प्रभाव

जब डॉक्टर्स ने कोरोनवायरस से जुडी गंभीर तीव्र श्वसन संक्रमण (severe acute respiratory infection - SARI) के उपचार के लिए विटामिन सी के प्रभाव  को लेकर परीक्षण किया गया तो अध्ययन से यह पाया गया कि विटामिन सी एक एंटीऑक्सिडेंट है जो फेफड़ों को साइटोकिन-प्रेरित क्षति को रोकने में मदद करता है। कुछ विषेशज्ञों के अनुसार, साइटोकिन्स कोशिका छोटे प्रोटीन होते हैं जो सूजन को बढ़ाते है और संक्रमण को भी बढ़ाते हैं।  COVID -19 होने के साथ ही अगर फेफड़ों में सूजन होती है और साँस लेने में परेशानी होती है तो समस्या बढ़ सकती है और मृत्य के आसार भी रहते है।

नैदानिक परीक्षण के आधार पर यह पाया गया कि विटामिन सी इंफ्लेमेटरी सूजन  को कम करता है और साथ ही सामान्य फ्लू के लक्षणों को भी रोकता हैं। अगर किसी के शरीर में विटामिन सी की कमी होती है तो इन्फ्लूएंजा संक्रमण का जोखिम  बढ़ जाता है और उसके लक्षण भी अधिक गंभीर होते है। टीम ने यह पाया कि विटामिन सी कोविड 19 से जुड़े वायरल निमोनिया के खिलाफ प्रभाव डालता है।

ALSO READ: Corona Virus: बचने के लिए इन चीजों का सेवन शुरू करे जो बीमारी से लड़ने की ताकत देंगी

Comments

Trending