Coronavirus Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Education & Jobs Cricket World Cup 2023 Science & Tech Others
आप, बीजेपी और कांग्रेस<span style= aap, congress, bjp - किस उम्मीदवार को मिली सीट, जानिये" width="80%" style="height: auto;">

आप, बीजेपी और कांग्रेस aap, congress, bjp - किस उम्मीदवार को मिली सीट, जानिये

Delhi Election 2020

चुनाव आयोग द्वारा दिल्ली विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चूका हैं। इसके मुताबिक दिल्ली में 8 फरवरी शनिवार को मतदान होगा और 11 फरवरी मगलवार को चुनाव के परिणाम आएंगे। इस बीच दिल्ली के सभी राजनीतिक दलों आप, बीजेपी और कांग्रेस ने अपने- अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। इस दौड़ में सबसे आगे रही आप (Aap) पार्टी जिन्होंने सबसे पहले लिस्ट जारी की थी। उसके बाद अब मुख्य विपक्षी दल बीजेपी (BJP) ने और अंत में कांग्रेस (Congress) ने भी अपने- अपने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है।

 अगर हम वर्तमान की बात करें तो 70 सदस्‍यीय दिल्‍ली विधानसभा में आम आदमी पार्टी (आप) के 62 विधायक और भाजपा के 4 विधायक हैं। बाकी सीटें अन्‍य दलों और निर्दलीयों के पास हैं। पिछली साल 7 फरवरी, 2015 को दिल्‍ली विधानसभा के चुनाव हुए थे जिसमे आप पारी का बोलबाला रहा था।  इस समय आप पार्टी के मुख्य अरविंद केजरीवाल राज्‍य के मुख्‍यमंत्री के तौर पर और मनीष सिसोदिया उप-मुख्‍यमंत्री ले तौर पर कार्यरत हैं। इससे पहले कांग्रेस पार्टी की मुख्य स्वर्गीय शीला दीक्षित जी लगातार 15 वर्षों तक दिल्ली की मुख्यमंत्री के तौर पर कार्यरत थी।

 आप, बीजेपी और कांग्रेस उम्मीदवारों की लिस्ट

विधानसभा क्षेत्र 

आप उम्मीदवार 

भाजपा उम्मीदवार

कांग्रेस उम्मीदवार 

नरेला

शरद चौहान

नीलदमन खत्री 

सिद्धार्थ कुंडु

 बुराड़ी

संजीव झा

शैलेंद्र कुमार (जेडीयू)

प्रमोद त्यागी (आरजेडी)

तिमारपुर

 दिलीप पांडे

सुरेंद्र सिंह बिट्टू 

अमर लता सांगवान

आदर्श नगर

 पवन शर्मा

राकुमार भाटिया

मुकेश गोयल

बादली 

 अजेश यादव

विजय भगत

देवेंद्र यादव

रिठाला

महेंद्र गोयल

मनीष चौधरी 

प्रदीप कुमार पांडेय

बवाना

जय भगवान उपकार

रविंद्र कुमार इंद्राज 

सुरेंद्र कुमार

मुंडका

धर्मपाल 

मास्टर आजाद सिंह

डॉ नरेश कुमार

किराड़ी

 ऋतुराज झा

अनिल झा 

मोहम्मद रियाजुद्दीन खा (आरजेडी)

सुल्तानपुर माजरा

मुकेश कुमार 

रामचंद्र छावरिया

जय किशन

 नांगलोई-  

रघुविंदर शौकीन 

सुमनलता शौकीन

मंदीप सिंह

मंगोलपुरी

राखी बिड़लान

करम सिंह कर्मा 

राजेश लिलोतिया

रोहिणी

राजेश बंसीवाला

 विजेंद्र गुप्ता

सुमेष गुप्ता

शालीमार बाग

बंदना कुमारी

रेखा गुप्ता 

जेएस नयोल

शकूरबस्ती

 सत्येंद्र जैन

डा. एससी वत्त

देवराज अरोड़ा

त्रिनगर

जितेन्द्र तोमर

तिलक राम गुप्ता

कमल कांत शर्मा

वजीरपुर- 

राजेश गुप्ता

डॉ. महेंद्र नागपाल

हरि कृष्ण जिंदल

मॉडल टाउन

अल्कलेश पति त्रिपाठी

कपिल मिश्रा

अकांक्षा ओला

सदर बाजार

सोमदत्त

जय प्रकाश

सतबीर शर्मा

चांदनी चौक

 प्रह्लाद सिंह साहनी

सुमन कुमार गुप्ता

अलका लांबा

मटियामहल

शोएब इकबाल

 रवींद्र गुप्ता

मिर्जा जावेद अली

बल्लीमारान

इमरान हुसैन

लता सोढ़ी

हारून युसूफ

करोलबाग

विश्व रवि

योगेंद्र चंदोलिया

गौरव धनक

पटेल नगर

राज कुमार आनंद

परवेश रतन

कृष्णा तिरथ

मोती नगर

 शिव चरण गोयल

सुभाष सचदेवा

रमेश कुमार पोपली

मादीपुर

गिरीश सोनी

कैलाश सांखला

जय प्रकाश पवार 

राजौरी गार्डन

धनवती चंदकला

रमेश खन्ना 

अमनदीप सिंह सुदान

हरि नगर

 राजकुमारी 

तेजेन्द्रपाल सिंह बग्गा 

सुरेंदर सेठी

तिलक नगर

 जनरैल सिंह

 राजीव बब्बर

एस रामिंदर सिंह

जनकपुरी

राजेश ऋषि

आशीष सूद

राधिका खेड़ा

विकासपुरी

महिंदर यादव

संजय सिंह

मुकेश शर्मा 

उत्तम नगर- 

नरेश बालयान

कृष्णा गहलोत

शक्ति कुमार विश्ननोई(आरजेडी)

द्वारका

 विनय कुमार मिश्र

प्रद्युम्न राजपूत

आदर्शन शास्त्री

मटियाला

गुलाब सिंह यादव

 राजेश गहलोत

सुमेष शोकीन

नजफगढ़

कैलाश गहलोत

अजीत खरखरी

साहिब सिंह यादव

बिजवासन

बीएस जून

सतप्रकाश राणा

परवीन राणा 

पालम

भावना गौड़

विजय पंडित

निर्मल कुमार सिंह (आरजेडी)

दिल्ली छावनी

वीरेंद्र सिंह

 मनीष सिंह 

संदीप तंवर

राजेंद्र नगर

 राघव चड्ढा

सरदार आरपी सिंह

रॉकी तुसीद

नई दिल्ली

अरविंद केजरीवाल

सुनील यादव 

रोमेश सब्बरवाल 

जंगपुरा

प्रवीण कुमार

सरदार इमरित सिंह बश्खी

तलविंदर सिंह मारवाह

कस्तूरबा नगर

 मदन लाल

रविंद्र चौधरी 

अभिषेक दत्त

मालवीय नगर

सोमनाथ भारती

शैलेंद्र सिंह मोंटी

नीतू शर्मा

आर के पुरम

प्रमिला टोकस

अनिल शर्मा

प्रियंका सिंह

महरौली

नरेश यादव

कुसुम खत्री 

मोहिन्दर चौधरी 

छतरपुर

करतार सिंह तंवर

ब्रह्म सिंह तंवर

सतीश लोहिया

देवली

 प्रकाश जरवल

अरविंद कुमार

अरविंदर सिंह

अम्बेडकर नगर

अजय दत्त

 खुशी राम

यदुराज चौधरी

संगम विहार

दिनेश मोहनिया

एससीएल गुप्ता 

पूनम आजाद

ग्रेटर कैलाश

 सौरभ भारद्वाज

शिखा राय

सुखबीर सिंह पवार

कालकाजी

आतिशी

धर्मवीर सिंह 

शिवानी चौपड़ा

तुगलकाबाद

सही राम पहलवान

विक्रम बिधूड़ी

शुबम शर्मा

बदरपुर

 राम सिंह नेताजी

रामवीर सिंह बिधूड़ी

प्रमोद कुमार यादव

ओखला

अमानतुल्लाह खान

 ब्रह्म सिंह

परवेज हाशमी 

त्रिलोकपुरी

 रोहित कुमार मचरौलिया        किरण वैद

विजय कुमार

कोंडली

 कुलदीप कुमार (मोनू)

राजकुमार ढिल्लो

अमरीश गौतम

पटपड़गंज

मनीष सिसोदिया

रवि नेगी

लक्ष्मण रावत

लक्ष्मी नगर

नितिन त्यागी

अभय कुमार वर्मा

हरिदत्त शर्मा

विश्वास नगर

दीपक सिंगला

ओपी शर्मा

गुरुचरन सिंह राजू

कृष्णानगर

एसके बग्गा

अनिल गोयल 

डॉ अशोक कुमार वालिया

गांधीनगर

नवीन चौधरी (दीपू)

अनिल वाजपेई

अरविंदर सिंह लवली

शाहदरा

राम निवास गोयल

संजय गोयल 

नरेंद्र नाथ

सीमापुरी

 राजेंद्र पाल गौतम

 

वीर सिंह

रोहतास नगर

सरिता सिंह

जितेंद्र महाजन

विपिन शर्मा

सीलमपुर

अब्दुल रहमान

 कौशल मिश्रा

मतीन अहमद

घोण्‍डा

एसडी शर्मा

अजय महारव

भीष्‍म शर्मा

बाबरपुर

 गोपाल राय

नरेश गौड़

अनविक्ष त्रिपाठी 

गोकलपुरी

सुरेंद्र कुमार

रणजीत कश्यप

डॉ एसपी सिंह

मुस्तफाबाद

 हाजी यूनुस

जगदीश प्रधान

अली मेहंदी

करावल नगर

दुर्गेश पाठक 

मोहन सिंह बिष्ट

अरबिंद सिंह

पीछे कुछ सालों के दिल्ली विधानसभा चुनाव के आंकड़ें

अगर हम बात करें पिछले कुछ सालों में हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव के बारे में तो आंकड़ें कहते है कि 2000 के बाद से हुए चुनावों में से तीन में जीत का सेहरा चुनाव में अगुवाई करने वाले नेताओं के सिर पर सजा।  आइये जानते है आंकड़ें क्या कहते हैं -

2003  - साल 2003 में कांग्रेस से  शीला दीक्षित ने अपनी छवि के सहारे 47 सीटें जीतकर भारतीय जनता पार्टी के मंसूबों पर पानी फेर दिया था।  इस नतीजे के दम पर शीला दीक्षित ने दिल्ली में तीन बार मुख्यमंत्री रहने का रिकॉर्ड बनाया और पार्टी के सबसे कद्दावर नेताओं में शुमार होने लगीं।

 2008  - साल 2003 के बाद साल 2008 में होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी कांग्रेस का पलड़ा भारी रहा और स्वर्गिय शीला दीक्षित ने  43 सीटें जीतकर भारतीय जनता पार्टी को पछाड़ दिया था।

 साल 2015 में किरण बेदी पर भारी पड़े केजरीवाल ने पूरे ज़ोर पर दिखती नरेंद्र मोदी की चुनावी लहर को दिल्ली विधानसभा में दाखिल नहीं होने दिया था और आम आदमी पार्टी ने 70 में से 67 सीटें जीतने में कामयाब रही थी। 49 दिन की सरकार से इस्तीफ़ा देने के बाद सियासी वनवास की तरफ़ बढ़ गए केजरीवाल ने 2015 की जीत से भारतीय राजनीतिक पटल पर ज़ोरदार वापसी की।

 साल 2020  - इस साल के दिल्ली विधानसभा चुनाव 8 फरवरी शनिवार को होंगे जिनका परिणाम तीन दिन बाद 11  फरवरी को आएगा। 

Read More: गणतंत्र दिवस स्पेशल: 71वीं गणतंत्र दिवस परेड

Comments

Trending