Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Others Education & Jobs Cricket World Cup 2019 Science & Tech

अल्बानिया में भूकंप, 14 मरे 600 से अधिक घायल, बचाव दल कर रहा है लोगों की तलाश

मंगलवार को अल्बानिया के थुमेन में जबरदस्त भूकंप रिकॉर्ड गिया गया। 6.4 तीव्रता के साथ ये भूकंप दक्षिणी बाल्कन में महसूस किया गया था और इसके बाद कई आफ्टर शॉक लगातार आए थे। अल्बानिया में सुबह भोर से पहले आए इस शक्तिशाली के बाद मंगलवार को बचाव दल ने खोदने वाली मशीन का इस्तेमाल करते हुए अपार्टमेंट और भवनों की खोज की। इन भवनों में कम से कम 14 लोगों की लाश बरामद हुई और 600 से अधिक घायल अवस्था में फंसे हुए मिले। अभी भी बचाव दल मलबे में फंसे और मरे हुए लोगों की तलाश कर रहा है।

बोस्निया पास ही के क्षेत्र में एक और भूकंप 5.4 की प्रारंभिक तीव्रता के साथ राजधानी के दक्षिण पूर्व में और साराजेवो में आया, हालांकि यहां इस भूकंप में किसी के हताहत होने की कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई। केवल मामूली नुकसान की तत्काल रिपोर्ट दर्ज की गई।

अल्बानिया में आए भूकंप के कारण कम से कम तीन अपार्टमेंट की इमारतें ढह गईं, ये उस समय आया जब लोग सो रहे थे। बचाव दल फंसे हुए लोगों को जल्द से जल्द मुक्त करवाने का काम कर रहे हैं। हालांकि अभी तक इस बात का कोई संकेत नहीं है कि मलबे में कितने लोग दबे हुए हो सकते हैं। 

अल्बानिया के प्रधानमंत्री ईडी राम ने इस घटना के संबंध में कहा कि ये एक ड्रामेटिक घटना है। हम सभी को शांति से काम लेना चाहिए और इस सदमे से निपटने के लिए सबको एक-दूसरे के साथ रहना है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने आंकड़ों का ब्यौरा देते हुए बताया कि भूकंप के दौरान लगभग 600 लोग घायल हो गए थे जिसमें से कुछ की हालत गंभीर बनी हुई है।

यूएस जियोलॉजिकल सर्वे ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि 6.4 अर्थक्वेक के परिमाण घातक हैं। ये भूकंप स्थानीय समयानुसार सुबह 4 बजे से पहले आया था जो 20 किलोमीटर यानि लगभग 12 मील की गहराई पर और राजधानी तिराना के उत्तर-पश्चिम में 30 किलोमीटर यानि लगभग 19 मील पर था। सर्वे में बताया गया कि 5.1 और 5.4 के बीच प्रारंभिक परिमाण के साथ आफ्टर शॉक के स्कोर में तीन शॉक शामिल थे।

रक्षा मंत्रालय ने बताया कि राजधानी तिराना के पश्चिम में 33 किलोमीटर यानि लगभग 20 मील के तटीय शहर डुरेस में मलबे से सात शव निकाले गए और उत्तरी शहर थुमने में भूकंप से ढह गई एक अपार्टमेंट की इमारत में पांच लोग मृत पाए गए हैं।


राजधानी के उत्तर में 50 किलोमीटर यानि लगभग 30 मील दूर कुरबिन में अपनी जान बचाने के लिए अपने घर से कूदने के बाद एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि उत्तरी शहर लेजा में एक अन्य व्यक्ति की मौत भूकंप के कारण हुई है।

स्थानीय टेलीविजन स्टेशनों ने फुटेज के दौरान एक युवा लड़के को खींचते हुए दिखाया जो भूकंप के दौरान डुरेस में एक ढह गई इमारत के बाद मलबे में फँस गया था। एक फुटेज में एक खुदाई के दौरान कंक्रीट के टूटे हुए स्लैब को स्थानांतरित करते हुए दिखाया गया। इसके अलावा स्थानीय लोगों द्वारा रास्ते में लगी सलाख़ों को खींचते हुए दिखाया गया, जिससे रास्ता साफ किया जा सके। भूकंप के कई घंटों बाद, लाइव टीवी फुटेज में लोगों को उस समय ख़ुशियाँ मनाते देखा गया जब एक बच्चे को डुरेस में एक ढह गई इमारत में जिंदा पाया गया, जहां एक शव पहले मिला था।

ग्रीस के जियोडायनामिक इंस्टीट्यूट के निदेशक, अकीस टेलसेंटिस ने एथेंस में बोलते हुए कहा कि हम मुख्य भूकंप के बाद कई आफ्टर शॉक की उम्मीद कर रहे हैं। जो मानव जीवन के लिए खतरा बन सकता है। उन्होंने कहा कि इतनी बर्बादी होने के बाद प्रभावित क्षेत्रों के लोगों को इस खतरे के बारे में पता होना चाहिए।

आपको बता दें, भूकंप डुरेस, तिराना और थुमने जैसे अल्बानियाई तट के साथ-साथ कुछ पड़ोसी हिस्सों कोसोवो, मोंटेनेग्रो, ग्रीस और दक्षिणी सर्बिया में भी महसूस किया गया था।

अधिकारियों ने आफ्टर शॉक्स के स्कोर को 5.5 की तीव्रता के रूप में बेहद शक्तिशाली बताया है और सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्रों के लोगों को अपने घरों से बाहर रहने और प्रभावित क्षेत्रों में ड्राइविंग से बचने के लिए आपातकालीन वाहनों को मुफ्त पहुंच की अनुमति देने का आह्वान किया है। बहुत से लोगों ने भूकंप के बाद अपने अपार्टमेंट की दीवारों में दरारें पड़ने की शिकायत भी की है।

अल्बानिया के प्रधानमंत्री ईडी राम का कहना है कि सभी सरकारी एजेंसियाँ अब बेहद सतर्क हैं और बेहद गहनता से ड्यूरेस और थुमने में घातक स्थानों पर जान बचाने के लिए काम कर रही हैं।

उन्होंने बताया कि लगभग 400 सैनिक डुरेस में टेंट स्थापित कर रहे हैं और उत्तर में थुमने के पास फुशे क्रुजे में घरों के बचे लोग जो भूकंप से बेघर हो गए, के लिए टेंट लगाए जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री ईडी राम ने कहा कि पड़ोसी देशों, यूरोपीय संघ और अमेरिका ने इस आपातकालीन घटना के बाद  मदद की पेशकश की थी। सुबह बहुत देर तक ग्रीस, इटली, कोसोवो, तुर्की, मोंटेनेग्रो, रोमानिया और सर्बिया अपने यहां से अल्बानिया को बचाव दल भेज रहे थे।


प्रधानमंत्री ईडी राम ने ब्यौरा देते हुए बताया कि भूकंप के बाद मदद के लिए ग्रीस लगभग 40 बचाव दल भेज रहा था, जिसमें एक 26-सदस्यीय खोज और बचाव दल, दो स्निफर डॉग और विशेष उपकरण के साथ एथेंस से तिराना के लिए एक सैन्य विमान में उड़ान भर रहा था, जबकि दूसरी टीम उत्तरी ग्रीस से सड़क द्वारा भूकंप क्षेत्र में जा रही थी। वहीं, इटली तीन इतालवी क्षेत्रों से विशेष शहरी खोज और बचाव दल भेज रहा था, जबकि सर्बिया, रोमानिया, तुर्की और मोंटेनेग्रो भी खोज और बचाव दल भेज रहे थे। थुमेन में कम से कम तीन अपार्टमेंट इमारतें और बिजली वितरण स्टेशन क्षतिग्रस्त हो गए। दूरसंचार और अन्य सभी चीजें बाधित हो चुकी हैं। आपको बता दें, इससे पहले सितंबर में आए भूकंप में लगभग एक ही क्षेत्र में सैकड़ों घरों को नुकसान पहुंचा था।

प्रधानमंत्री ईडी राम ने कहा, इस भारी क्षति से अल्बानिया के लोगों को उबरने में वक्त लगेगा, लेकिन वे जल्द संभल जाएंगे।  

Comments

Trending