Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Others Education & Jobs Cricket World Cup 2019 Scinece & Tech

ऋतिक की सुपर 30 देखने के लिए अमेरिका निवासी है बेताब

सुपर 30 (super 30) के संचालक आनंद कुमार (anand kumar) के बायोपिक पर आधारित फिल्म ‘सुपर 30 को देखने के लिए दर्शकों की कतार लगातार बढ़ती चली जा रही है। इस फिल्म को देखने के लिए अमेरिका में रहने वाले भारतीय बहुत ज्यादा उत्साहित हैं। वहीं, ऋतिक रोशन की कमाल की एक्टिंग ने इस फिल्म में तड़का लगा दिया है।

You Might Also Like: जजमेंटल है क्या: ट्रेलर लांच के दौरान कंगना के इस हॉट लुक ने फैन्स पर ढाया कहर

You Might Also Like: बन्दूक थामे कंगना की अगली फिल्म धाकड़ का पोस्टर हुआ जारी, फैन्स के उड़ गए होश

 You Might Also Like: जबरिया जोड़ी पहला गाना आज होगा रिलीज, पैपी धुन है खास

इस बात पर आधारित है कहानी

जैसे की फिल्म ‘सुपर 30 एक बायोपिक पर आधारित है। इसलिए इसकी कहानी पूरी तरह सच है। दरअसल, ‘super 30’ भारत के पटना में स्थित एक शैक्षिक प्रोग्राम है जो भारत के टॉप 30 स्टूडेंट्स को फ्री में IIT-JEE की कोचिंग कराती है। यह संस्था अभयानंद (Abhayanand) और आनंद कुमार (Anand Kumar) द्वारा चलाई जाती है। अभयानंद (Abhayanand) एक आईपीएस ऑफिसर हैं जबकि आनंद कुमार (Anand kumar) एक बेहतर गणितज्ञ हैं। जो विद्यार्थियों को शिक्षा देते हैं|

यह टीम उन बच्चों को IIT-JEE की तैयारी कराती है जो पढ़ने के लिए इच्छुक हैं लेकिन, पैसे की कमी या अन्य कारणों की वजह से IIT-JEE की तैयारी नहीं कर सकते हैं। यह संस्था टॉप 30 स्टूडेंट्स को निःशुल्क शिक्षा प्रदान करती है।

इस संस्था को चलाने में आनंद कुमार की माता जयंता देवी का भी बहुत बड़ा योगदान है। जयंता देवी विद्यार्थियों के लिए खाना बनाती हैं।

सोचने वाली बात यह है कि इस संस्था में पढ़ने वाले बच्चे हर साल IIT-JEE का एग्जाम क्रैक करते हैं। जब 2002 में इस कोचिंग सेण्टर की शुरुआत हुई थी तब 30 में से कुल 18 बच्चों ने IIT-JEE का एग्जाम क्रैक किया था। वहीं 2004 में 22 बच्चों का चयन हुआ था।

2005 में संख्या बढ़कर 26 हो गई थी जबकि 2006 में तीस में से 28 विद्यार्थी ने IIT-JEE का एग्जाम क्रैक किया था। इस बात से प्रभावित होकर बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने हर विद्यार्थी को पचास हजार का इनाम भी भेंट दिया था।

2007 में एक बार फिर से 30 में से 28 विद्यार्थियों ने IIT-JEE में सफलता हासिल की। इसके बाद सन 2009 और 2010 में तीस के तीस विद्यार्थियों ने एग्जाम निकाला। 2011, 2012, 2013, 2014, 2015, 2016, 2017 और 2018  में 30 में से 24,27,28,27,25,28,30 और 26 विद्यार्थियों ने IIT-JEE का एग्जाम सफलतापूर्वक पास किया था।

इस तरह से यह संस्था लगातार फेमस होती गई और अपने कई स्टूडेंट्स को IIT-JEE में प्रवेश दिलाने में सफल हुई। इस संस्था की बढ़ती उन्नति से हिंदी सिनेमा जगत प्रभावित होकर इस पर फिल्म बनाने का निर्णय लिया और फिल्म को संस्था ‘super 30 film’ का नाम दिया गया।

एफआईए टीम बेसब्री से कर रही इन्तजार

अमेरिका में संचालित फेडरेशन ऑफ इंडियन एसोसिएशन (एफआईए) ने इस फिल्म की सराहना करते हुए कहा कि हमारी टीम आनंद कुमार की बायोपिक पर आधारित इस फिल्म का बेसब्री से इन्तजार कर रही है।

भारतीय समुदाय के लोग भी कर रहे इन्तजार

अमेरिका में रह रहे कई भारतीय इस फिल्म को देखने के लिए बहुत उत्साहित हैं। बता दें कि फिल्म के डायरेक्टर ‘विकास बहल’ हैं।

जबकि, आनंद कुमार की भूमिका में ऋतिक रोशन देखने को मिलेंगे।

इस दिन रिलीज होगी फिल्म

रिलीज के पहले ही दर्शकों के मन को मोह लेने वाली यह फिल्म 12 जुलाई को रिलीज होने वाली है। पहले इस फिल्म की रिलीज डेट 26 जुलाई रखी गई थी। लेकिन, उसी दिन कंगना की फिल्म ‘जजमेंटल है क्या का रिलीज डेट तय हो गया। इसलिए इस फिल्म को 12 जुलाई को रिलीज करने का निर्णय लिया गया।

You Might Also Like: बन्दूक थामे कंगना की अगली फिल्म धाकड़ का पोस्टर हुआ जारी, फैन्स के उड़ गए होश

 You Might Also Like: जबरिया जोड़ी पहला गाना आज होगा रिलीज, पैपी धुन है खास

Comments

Trending