Coronavirus Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Education & Jobs Cricket World Cup 2023 Science & Tech Others
अब आपके ब्लडप्रेशर और कॉलेस्ट्रॉल का ध्यान रखेगा फेसबुक और बताएगा कब करवानी है जांच

अब आपके ब्लडप्रेशर और कॉलेस्ट्रॉल का ध्यान रखेगा फेसबुक और बताएगा कब करवानी है जांच

आज के समय में उच्च रक्तरचाप और कॉलेस्ट्रॉल की समस्या आम हो गई है। कॉलेस्ट्रॉल बढ़ने से  खासतौर दिल संबंधी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। वही ब्लडप्रेशर भी कई गंभीर बीमारियों जैसे स्ट्रोक के लिए जिम्मेदार है। देशभर में फिट इंडिया की मुहिम चल रही है, हर कोई फिट रहने और हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाने की सलाह दे रहा है। ऐसे में फेसबुक भी पीछे नहीं है। जी हां, ताजा खबर के मुताबिक, अब फेसबुक में एक ऐसा फीचर आया है जो आपके कॉलेस्ट्रॉल के स्तर का ध्यान रखेगा। जानिए क्या है पूरा माजरा। 

अमेरिका में हुआ है लॉन्च- 

खबरों के मुताबिक, फेसबुक ने एक नया टूल शुरू किया है जिसका नाम है "प्रिवेंटिव हेल्थ"। ये नया टूल आपको फ्लू शॉट बुक करने के लिए प्रेरित करेगा। इस टूल के तहत रक्तचाप का परीक्षण होगा, साथ ही आपके कोलेस्ट्रॉल की जांच भी होगी। हालांकि ये टूल फिलहाल रोलआउट अमेरिका में शुरू हुआ है, लेकिन इस टूल के सफल होने पर भविष्य में इसे भारत सहित अन्य देशों में शुरू किया जा सकता है।

रक्तदान फीचर की सफलता के बाद लॉन्च हुआ है प्रिवेंटिव हेल्थ" टूल - 

एक रिपोर्ट के मुताबिक, यह टूल फेसबुक के रक्तदान फीचर की सफलता का अनुसरण करता है, जो रक्त बैंकों के साथ दाताओं से मेल खाता है। 2017 में रक्तदान फीचर भारत में लॉन्च किया गया था। इस फीचर के सफल होने के बाद ही इस साल की शुरुआत में "प्रिवेंटिव हेल्थ" टूल अमेरिका में पेश किया गया।

क्या है नए फीचर का फायदा- 

जैसा कि इसके नाम से पता चलता है "प्रिवेंटिव हेल्थ", ये नया टूल आपको स्कैन और परीक्षणों में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करेगा जो संभावित समस्याओं का पता लगा सकते हैं, जिससे आप और आपके डॉक्टर कुछ भी गंभीर होने से पहले ही कार्रवाई कर सकते हैं।

डॉक्टर से चेकअप या जांच की सिफारिशों को आपकी उम्र और लिंग के अनुसार अनुकूलित किया जा सकता है। इस टूल की मदद से उन परीक्षणों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा जो कैंसर और हृदय रोग के शुरुआती लक्षणों का पता लगा सकते हैं। जब आपको चेकअप बुक करने का अच्छा समय होगा तो ये ऐप आपको सलाह देगा साथ ही आपकी निर्धारित तारीख के करीब आपको रिमाइंडर भेजेंगे और बताएंगे कि किस दिन आपकी जांच होनी है। जब आपकी जांच हो जाती है या फिर जांच की तारीख निकल जाएगी तो आप इसे अगली बार पूरी होने तक इसे बंद कर सकते हैं।

इस कदम से फेसबुक फिलहाल है संदेह में- 

ये तो सभी जानते हैं स्वास्थ्य से जुड़ी चीजें एक व्यक्तिगत मामला है और कुछ लोगों को इसमें संदेह भी है कि उनकी सेहत संबंधी जानकारी जैसे कि आगामी कोलेस्ट्रॉल की जांच इत्यादि के विवरण को किसी कंपनी के साथ साझा करना सुरक्षित नहीं हैक्योंकि फेसबुक पर पहले भी डेटा बेचने या लीक होने के आरोप लग चुके हैं। 

शायद सबसे बड़ी चिंता (विशेष रूप से अमेरिका में उपयोगकर्ताओं के लिए) यह है कि स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं के बारे में जानकारी बीमा कंपनियों के हाथों में पहुंच सकती है, जो तब आरोपों को खारिज कर सकती हैं या कवरेज से इनकार कर सकती हैं, जब उपभोक्ता को वास्‍तव में बीमा की जरूरत पड़ेगी। इसलिए फेसबुक ने जल्दी कदम बढ़ाने और यह समझाने का फैसला किया है कि यह आपकी भलाई के बारे में जानकारी का उपयोग कैसे करेगा और कैसे नहीं करेगा।

कैसे काम करेगा "प्रिवेंटिव हेल्थ" टूल -

फेसबुक का कहना है कि Preventive Health के भीतर आपकी गतिविधि को सार्वजनिक रूप से पोस्ट नहीं किया जाएगा या दूसरों के साथ साझा नहीं किया जाएगा। फेसबुक ने दावा किया है कि आपके द्वारा प्रदान की जाने वाली जानकारी सुरक्षित रूप से संग्रहीत की जाती है और उसकी पहुंच फेसबुक पर ऐसे लोगों के समूह तक सीमित है जो उत्पाद पर काम करते हैं या हमारे सिस्टम को बनाए रखते हैं।

जानकारी तीसरे पक्ष को साझा ना करने का फेसबुक ने किया वादा-
फेसबुक के मुताबिक, "हम आपकी गतिविधि के बारे में व्यक्तिगत जानकारी तीसरे पक्ष, जैसे स्वास्थ्य संगठन या बीमा कंपनियों, के साथ साझा नहीं करते हैं, इसलिए इसका उपयोग बीमा पात्रता जैसे उद्देश्यों के लिए नहीं किया जा सकता है।" फेसबुक की तरफ से ये भी कहा गया है कि आप अपने परीक्षणों की तारीखों और समय को दर्ज कर सकते हैं और उन्हें चिह्नित कर सकते हैं, लेकिन परिणाम जानने के लिए फेसबुक के पास कोई रास्ता नहीं है कि आपकी जांच के क्या नतीजे आए हैं। आप अपने न्यूज फीड पर प्रिवेंटिव हेल्थ के बारे में दोस्तों और परिवार को बता सकते हैं, लेकिन ऐसा करने से आपकी गतिविधि उनके साथ साझा नहीं होगी।

फेसबुक का उपभोक्ताओं से वादा-

फेसबुक ने अपने उपभोक्ताओं को ये भी वादा किया है कि आपको विज्ञापनों के साथ लक्षित करने के लिए Preventative Health के डेटा का उपयोग फेसबुक नहीं करेगा, हालांकि यह ध्यान में रखने योग्य है कि अन्य वेबसाइटों पर जाकर या स्वास्थ्य संगठनों के पृष्ठों पर लिंक क्लिक करने से आपके द्वारा देखे जाने वाले विज्ञापन प्रभावित हो सकते हैं।

बहरहाल, ये देखना होगा कि अमेरिका में फेसबुक का "प्रिवेंटिव हेल्थ" टूल कितना कामयाब होता है। यदि अमेरिका में ये टूल सफल रहा तो जल्द ही ये फिट इंडिया में भी फिट होने की कोशिश करेगा। ये भी उम्मीद की जा रही है कि भारतीय इस तरह के टूल से खासा आकर्षित हो सकते हैं। हालांकि अभी ये साफ नहीं है कि अमेरिका के लोगों को "प्रिवेंटिव हेल्थ" टूल कितना पसंद आया, क्या ये टूल अपने लक्ष्‍य में कामयाब हो रहा है? या फिर अमेरिका के लोगों को सचमुच इस "प्रिवेंटिव हेल्थ" टूल का लाभ पहुंच रहा है।  

Read More: Kareena Kapoor fitness workout, diet plan, and yoga exercises

Comments

Trending