Coronavirus Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Education & Jobs Cricket World Cup 2023 Science & Tech Others
दिल्ली की ठंड ने 119 साल का रिकॉर्ड तोड़ा

दिल्ली की ठंड ने 119 साल का रिकॉर्ड तोड़ा


साल 2019 की ठंड ने पूरे देश को हैरानी में डाल दिया हैं। इस साल की ठंड ने हाड़ कंपा देने वाली ठंड के कहर से सभी को चपेट में ले  लिया है।उत्तर भारत के सभी राज्यों जिसमे खासकर राजधानी दिल्ली में ठंड के साथ- साथ शीतलहर के प्रकोप ने सभी को जकड लिया है। अगर दिल्ली दिलवालों की बात करें तो ठंड ने सोमवार यानी 30 दिसंबर 2019 को 119 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। 30 दिसंबर 2019 को दिल्ली में पिछले 119 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।  दिल्ली में 30 दिसंबर 2019 दिन की शुरुआत सुबह घने कोहरे और कड़ाके की ठंड के साथ - साथ रिकॉर्ड तोड़ ठण्ड पड़ी। इस दिन दिल्ली में कई जगहों का तापमान 3 डिग्री से नीचे तक चला गया और दिन भर में अधिकतम तापमान 9 डिग्री दर्ज हुआ। दिल्ली में तापमान आंकड़ों के अनुसार तीनों केंद्रों- पालम, आया नगर और लोधी रोड में 1901 के बाद सबसे कम तापमान यानि दिन का अधिकतम तापमान 9.4° दर्ज किया गया। 



1997 - 2019 के तापमान आंकड़ें 

अगर हम 1997 की दिल्ली में पड़ी ठंड की बात करें तो 28 दिसंबर 1997 के दिन सबसे ज्यादा सर्दी पड़ी थी और अधिकतम तापमान 11.3° सेल्सियस रहा था। लेकिन 2019 की ठंड ने तोह कोहराम मचा दिया। जाते-जाते 30 दिसंबर 2019 को यह रिकॉर्ड टूट गया। दिल्ली में 30 दिसंबर 2019 की सुबह अलग-अलग इलाकों में न्यूनतम तापमान सेल्सियस से नीचे और अधिकतम तापमान 9 डिग्री दर्ज हुआ। घने कोहरे के साथ सुबह लोधी रोड में न्यूनतम तापमान 2.2°, आया नगर में 2.5°, सफदरजंग में 2.6° और पालम में 2.9° दर्ज हुआ। 30 दिसंबर 2019 की दोपहर बाद अधिकतम तापमान  - 2:30 बजे पालम में 9.0°, आया नगर में 7.8°, लोधी रोड में 9.2° का रिकॉर्ड किया गया।



उत्तर भारत में ठंड का प्रकोप 

उत्तर भारत के कई हिस्सों  - जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश और बिहार में ठंड और शीतलहर का प्रकोप छाया हुआ हैं। मौसम विभाग के अनुसार उत्तर भारत समेत देश के कई इलाकों में 31 दिसंबर से 02 जनवरी तक भारी बारिश की संभावना है, जिससे तापमान में और गिरावट आने की संभावना है। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बर्फबारी की संभावना भी जताई गई है। लद्दाख की द्रास घाटी और जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में तापमान लगातार गिर रहा हैं और राजस्थान के जयपुर में 55 साल का रिकॉर्ड तोड़ते हुए न्यूनतम तापमान सोमवार को पहुंच गया।  लेह का न्यूनतम तापमान -20° और श्रीनगर, द्रास और गुलमर्ग घाटी समेत यहां के लगभग सभी इलाकों में न्यूनतम तापमान लगातार माइनस में बना हुआ है, जिससे कई जगहों पर नदियां, झीलें और झरने जम गए। हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति में न्यूनतम तापमान -22° सेल्सियस दर्ज किया गया। रोहतांग दर्रा और केलांग में भी तापमान माइनस में बना हुआ है। 



यातायात  की स्थिति 

मौसम विभाग के अनुसार, साल 2019 की ठंड ने पूरे देश के साथ देश की य|त|यात व्यवस्था को भी हिलाकर रख दिया हैं। रेल यातायात और हवाई यातायात सबसे अधिक प्रभावित हुआ हैं। कोहरे की वजह से उत्तर रेलवे क्षेत्र में 34 ट्रेनें देरी से चल रही हैं। मौसम विभाग ने हरियाणा के 16 जिलों के लिए ठंड और बारिश का अलर्ट जारी किया है। विजिबिलिटी 0 से 50 मीटर तक रहेगी और पंजाब के 18 जिलों में ठंड का रेड अलर्ट है। उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में बर्फबारी हो रही है। दिल्ली में चलती ठंड के कारण और घने कोहरे की वजह से दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से कई उड़ानों को डायवर्ट करना पड़ा। 530 विमानों ने देरी से  उड़ान भरी।ठंड के कारण कंप्यूटराइज्ड लैंडिंग सिस्टम भी काम नहीं कर रहा था। 



दिल्ली में प्रदुषण का हाल 

दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति के अनुसार  (DPCC) , ठंड के प्रकोप की वजह से दिल्ली में वायु गुणवत्ता में भी कमी आई है। डीपीसीसी के अनुसारआनंद विहार में वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 431 'गंभीर' श्रेणी में दर्ज किया गया है जबकि आरके पुरम में एक्यूआई 372,'बहुत गरीब' श्रेणी में है।

Comments

Trending