Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Travel Today Tales Facts Others Education & Jobs

काली सरसों गुणों की खान !

काली सरसों गुणों की खान !

प्रत्येक रसोईघर में प्रायः करके काली सरसों प्रयोग में लाई जाती है चाहे वह मसाले के रूप में हो या तेल के रूप में । सरसों खाने में स्वाद व गुणवत्ता बढ़ाने के साथ - साथ सौंदर्य बढ़ाने में भी काम आती है, इसका तेल भी हमारे स्वास्थ के लिए बहुत लाभदायक होता है । इसमें विटामिन बी काम्प्लेक्स, बीटा कैरोटीन, आयरन, फैटी एसिड तथा कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है ।

यदि सिर की त्वचा खुश्क हो जाए तो इसके बीजों को पीसकर पेस्ट बनाकर लगाने से खुश्की दूर होती है, इसके तेल को नारियल के तेल या किसी अन्य तेल में मिलाकर मालिश करने से यह रक्त संचार को बढ़ाकर बालों में वृद्धि करता है तथा बालों को असमय सफ़ेद होने से रोकता है ।

इसके बीजों को पीसकर पेस्ट बनाकर लगाने से चेहरे की झुर्रियां दूर होती है, त्वचा का सूखापन ठीक होता है । बेसन और दही में सरसों के तेल की कुछ बूंदे डालकर चेहरे पर लगाने से त्वचा मुलायम व चमकदार होती है, इसको लगाने से स्किन ग्लो करने लगती है और यह हमारी त्वचा के लिए स्क्रबर का काम भी करता है । इसके बीज को पीसकर एलोवेरा जैल में मिलाकर लगाने से भी त्वचा सवस्थ होती है ।

यदि होठ फटने की समस्या हो तो नाभि में सरसों के तेल की कुछ बूंदे डालने से होठ नहीं फटते । सरसों के तेल में एंटीबैक्टीरियल व एंटीफंगल गुण मौजूद होते है । सरसों के तेल की नियमित मालिश करने से जोड़ो का दर्द, गठिया की तकलीफ में आराम आता है तथा यदि मांसपेशियों में जकड़न हो तो तेल को गुनगुना करके मालिश करनी चाहिए।

Comments

Trending