Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Travel Today Tales Facts Others Education & Jobs

दस्त में क्या करे ?

दस्त में क्या करे ?

वर्षा ऋतू में अनेक रोग अपने पाँव पसारने लगते है ,वर्षा ऋतू में वातावरण में नमी बढ़  जाती है जिस कारण   कीटाणुओं को पनपने और शरीर पर अटैक करने में आसानी होती है और बीमारिया आसानी से फैलने लगती है | दस्त भी अशुद्ध भोजन या फिर असुद्ध जल पीने के कारण होता है,  इसमें व्यक्ति के शरीर में अधिक मल मूत्र त्यागने के कारण पानी और खनिजों की कमी हो जाती है | शरीर कमजोर हो जाता है और उचित इलाज के आभाव में यह गंभीर रूप भी धारण कर सकता है |

लक्षण -

  • पतले दस्त होना |
  • उल्टी आना |
  • बुखार आना |
  • बार बार प्यास लगना |
  • लगातार कंठ और जिह्वा का सुखना |
  • कमजोरी होना |
  • मूत्र न होना |

उपचार -

  • प्रारम्भ में तो इसके लक्षण दिखाई देने पर व्यक्ति के शरीर में पानी का स्तर कम ना हो इस लिए ORS का घोल उबले पानी में बनाकर थोड़ी थोड़ी देर में व्यक्ति या शिशु को देना चाहिए |
  • उसके बाद खाने के लिए ठोस आहार के स्थान पर पेय पदार्थो का प्रयोग करना चाहिए | आप घर पर निकाला हुआ ताजे फलों का रस दे सकती है |नारियल का पानी भी दस्त में जल्दी आराम देता है |
  • पानी को उबाल कर ही पिलाये |
  • और डाक्टर की सलाह अवश्य ले |

बचाव -

स्वछता का ध्यान रखना एक मात्र उपाय है इस ऋतू में रोगो से बचाव का | भोजन से  पहले और बाद में हाथो को अवश्य धोये | शौच के बाद हाथ साबुन से भलीभांति धोये | भोजन और भोज्य पदार्थो को ढक कर रखे |

स्वच्छ पानी का सेवन करे | आस पास सफाई रखे |

हाथो के द्वारा और दूषित भोजन के माध्यम से मुँह से पेट में जाने वाले कीटाणु ही दस्त का मुख्य कारण है|

Comments

Trending