अस्वछता एक अभिशाप!

By:  रजनीशा शर्मा

http://alldatmatterz.com/img/article/920/garbege.gif

प्रधानमंत्री मोदी ने देश में स्वछता अभियान चला रखा है और उन्हें इस मुद्दे पर देश का समर्थन भी प्राप्त हो रहा है | लेकिन सोचने वाली बात ये है की भारत जैसा देश जहा शौच के बाद नहाना अनिवार्य समझा जाता था ,जहा स्वछता का स्तर इस उचाई पर था की प्रातः बह्ममुहूर्त में ही उठाकर स्त्रियाँ घर की सफाई कर फिर नहाकर ही रसोई में प्रवेश करती थी | घर चाहे कितना ही बड़ा क्यों ना  हो पूरे घर की सफाई रोज़ की जाती थी  उस देश में  कोई हमे बताएगा की गंदगी से बीमारिया उतपन्न  होती है  तभी हमे पता चलेगा |

http://alldatmatterz.com/img/article/920/garbege.gif

हम सरकार को दोष देते है सरकार कूड़े के निस्तारण  की उचित व्यवस्था नहीं करती क्या हम सोचते है की हम मॉल में भी जाते है तो कूड़े को नीचे ही डाल देते है वहाँ तो व्यवस्था होती है फिर हम ऐसा क्यों करते है ? दरसल हम सभ्य नहीं असभ्य होते जा रहे है | अगर आप प्राचीन भारत पर नजर डाले तो हमे पता चलेगा की हम कितने जागरूक और उन्नत थे | प्लास्टिक सर्जरी के प्रथम डाक्टर आचार्य चरक थे | ऐसी कोई जड़ीबूटी नहीं जिसका ज्ञान भारत को नहीं फिर हम क्यों आज इतने लाचार है की हम स्वयं को स्वच्छ भी नहीं रख सकते | उसके लिए भी अभियान चलाना पड़ता है |

http://alldatmatterz.com/img/article/920/garbege.gif

अस्वछता से होने वाली  बीमारियों की गिनती भी करना मुश्किल है अनेक बीमारिया और दूषित वातावरण इसकी देन है |हम स्वयं तो साफ़ रहे ही साथ ही हमे अपने आस पास का वातावरण भी साफ़ रखना चाहिए | स्वछता से कई बीमारियों से बचा जा सकता | 21 वी सदी में भी हमारे देश में  गंदगी से उतपन्न बीमारियों से होने वाली मौत का आकड़ा चौंकाने वाला है | अभी भी भारत में कई राज्य ऐसे है जो खुले सोच जाने को मजबूर है जब देश चाँद और मंगल पर जाकर सफलता के झंडे गाड़ चूका है उस समय में ये खबर विचलित करने वाली है |

हम छोटी छोटी बातो का ध्यान रख कर अपने आस पास के वातावरण को स्वच्छ रख सकते है -

  • कूड़े को कहीं भी ना फेंके |
  • घर में ही सोच की उचित व्यवस्था करे ,जरूरी नहीं की महंगे शौचालय ही बनवाये जाए इसके लिए अस्थायी  व्यवस्था भी अपनायी जा सकती  है |
  • गाँवों में तो सब्जी के छिलको , गोबर और अन्य जैविक चीजों से जैविक खाद बनाई जा सकती है इससे उतपन्न अन्न भी स्वास्थ्य  वर्धक होता है |
  • भोजन करने से पहले हाथ अवश्य धोये |
  • शौच के बाद साबुन से हाथ अवश्य धोये |
  • भोजन के सभी खाद्य पदार्थो को ढककर रखे |
  • नालियों ,गड्डो और किसी सामान में पानी जमा न होने दे |
  • छोटे बच्चो को कोई भी सामन मुँह में ना डालने दे | और सबसे जरूरी बात स्नान प्रतिदिन अवश्य करे |

ऐसी ही बहुत सी छोटी छोटी बाते है जिनका ध्यान रखकर आप डेंगू ,मलेरिया ,इन्फ्लाइटिस ,पेट में कीड़े जैसी अनेक बीमारियों से आप अपना बचाव कर सकते है | स्किन संबंधी भी कई रोग गंदगी से ही उतपन्न होते है |

 

http://alldatmatterz.com/img/article/920/garbege.gif http://alldatmatterz.com/img/article/920/garbege.gif http://alldatmatterz.com/img/article/920/garbege.gif http://alldatmatterz.com/img/article/920/garbege.gif http://alldatmatterz.com/img/article/920/garbege.gif http://alldatmatterz.com/img/article/920/garbege.gif http://alldatmatterz.com/img/article/920/garbege.gif
tumbler

Comments




YOU MAY ALSO LIKE


क्या सच में नया बिल 'खाताबंदी' बिल है : एक विश्लेषण

RAHUL GANDHI will take over as Congress boss on December 16

Prime Minister Narendra Modi tops the list for most searched Indian 2017!

जस्टिस लोया की मौत का अधूरा सच

क्या है बिटकॉइन और क्यों बढ़ रहा है इसका क्रेज ?


क्या सच में नया बिल 'खाताबंदी' बिल है : एक विश्लेषण

RAHUL GANDHI will take over as Congress boss on December 16

Prime Minister Narendra Modi tops the list for most searched Indian 2017!

जस्टिस लोया की मौत का अधूरा सच

क्या है बिटकॉइन और क्यों बढ़ रहा है इसका क्रेज ?