Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Others Education & Jobs Cricket World Cup 2019 Science & Tech

Birthday Special - PM मोदी की खास उपलब्धियां - (अच्छे दिन) आ गए   

17 सितंबर 1950 को वडनगर में जन्मे बालक को कौन जानता था कि एक दिन वो परिवार के साथ-साथ भारत देश का नाम रोशन करेगा। हर क्षेत्र में अव्वल  रहने वाले मोदी जी का काम के प्रति ढृढ़ निश्चयी और अंदाज हमेशा से ही दूसरे लोगों से अलग रहा है। आज 17 दिसंबर को नरेंद्र दामोदर दास मोदी (Narendra Damodardas Modi) का यानि हमारे प्रिय प्रधानमंत्री जी का जन्मदिवस हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जन्मदिन से एक दिन पहले ही अपने गृह राज्य गुजरात पहुंच चुके हैं। आज वो अपना 69वां जन्मदिन अहमदाबाद में अपनी मां हीराबेन से आशीर्वाद लेकर शुरु करेंगे। अहमदाबाद में पीएम मोदी के जन्मदिवस को मनाने के लिए खास तैयारियाँ की गई हैं और शहर को सजा कर तैयार किया गया हैं। हवाई अड्डे से लेकर राज भवन तक होर्डिंग, बैनर और गुजरात में नर्मदा महोत्सव को मनाने की तैयारी हो चुकी हैं। क़रीब 5000 जगहों पर नर्मदा की आरती होगी और साथ ही केवड़िया कार्यक्रम भी चलेगा। 


17 सितंबर को गुजरात (Gujarat) में जन्मे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के इतने फैन है की सारे भारत देश में उनके बर्थडे पर ख़ुशियाँ मना रह हैं। अपने पहले कार्यकाल की सफलता के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल में 100 दिन से ज्यादा पूरे करके राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई उपलब्धियाँ हासिल कर ली हैं। अपने कार्यकाल में कई कई ऐतिहासिक फैसले देते हुए कई नए रिकॉर्ड बनाए है और साथ ही वर्षों पुराने फ़ैसलों को बदल कर रख दिया हैं। 


आज बच्चे - बच्चे की ज़ुबान पर नरेंद्र मोदी जी का नाम है। आइये जानते है हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता के लिए ऐसे कौन से काम किये है  जो उपलब्धियों के बराबर है और एक आम नागरिक अपने प्रधानमंत्री से क्या उम्मीद रखती हैं - 


  • आर्टिकल 370: 14 मई 1954 को तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने एक आदेश पारित कर भारत के संविधान में अनुच्छेद 35A को जगह दी थी। इसको मूल संविधान का हिस्सा नहीं कहा जाता था। आजादी के 7 साल बाद अनुच्छेद 35-A को यानी संविधान में जोड़ा गया था।  इसे संविधान के अनुच्छेद 370 (1) (d)के तहत जारी किया गया था। 5 अगस्त, 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने आर्टिकल 370 (Article 370) को हटाकर जम्मू-कश्मीर (Jammu And Kashmir) में ऐतिहासिक फैसला लिया। धारा 370 को खत्म करने में मोदी-शाह की जोड़ी ने कमाल करके रख दिया और बरसो पुराने इतिहास को बदल डाला।  मोदी सरकार ने कश्मीर को भारत से अलग करने वाली धारा 370 को खत्म कर दिया गया और साथ ही साथ जम्मू-कश्मीर (Jammu kashmir) को विधानसभा वाला केंद्रशासित प्रदेश तो वही लद्दाख को बिना विधानसभा वाला केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया है।

  • तीन तलाक बिल का पास होना: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने अपने पहले कार्यकाल में भारत की महिलाओं से जो वादा किया था  उसे निभा कर एक और अहम फैसला लिया। लाल किले की प्राचीन से मुस्लिम बहनों को तीन तलाक (Triple Talaq) से आज़ादी दिलाने की बात को उन्होंने अपने दूसरे कार्यकाल शुरू होते ही मोदी तीन तलाक बिल को संसद के दोनों सदनों से पास करा इसे कानून बना दिया। ये बिल पास कर मोदी सरकार ने मुस्लिम महिलाओं (Muslim Women) को वो अनमोल तोहफा दिया, जिसका इंतजार वह सदियों से कर रही थी।तिल तलाक़ ऐसा बिल है जिसमे तीन तलाक को अपराध बताया गया हैं और इसमें तिल तलाक़ करने वाले व्यक्ति को अपराधी बताते हुए दोषी माने जाने का प्रावधान हैं। साथ ही व्यक्ति को जेल की सजा सुनाए जाने का प्रावधान है हालाँकि सज़ा की अवधि निश्चित नहीं हुई हैं।
  • गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम कानून(UAPA) बिल  - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार आतंकवाद (Terrorist) के खिलाफ लड़ाई को अपनी दोनों परियों में जारी रखे हुए हैं। जीरो टॉलरेंस की नीति को अपनाते हुए मोदी सरकार ने गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम कानून (UAPA) को संशोधित कर काफी सख्त कर दिया है। इस कानून के मुताबिक अब सिर्फ समूह को ही नहीं बल्कि किसी अकेले व्यक्ति को भी आतंकी घोषित किया जा सकता है। इसके साथ ही उसकी संपत्ति जब्त की जा सकती है। जांच एजेंसियों को संशोधित कानून में ज्यादा शक्तियां प्रदान की गई हैं।गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए), 1967 एक भारतीय कानून है, जिसका उद्देश्य देश के अंदर गैरकानूनी गतिविधियों और संगठनों को लक्षित करना है। यह कानून कुछ संवैधानिक अधिकारों पर उचितप्रतिबंध लगाता है, जैसे भाषण और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता, शांतिपूर्वक और हथियारों के बिना एकत्र होने का अधिकार तथा एसोसिएशन या यूनियन बनाने का अधिकार।
  • 'सिंगल यूज प्लास्टिक' अभियान 2 अक्टूबर से - 15 अगस्त 2019 को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाला किले से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने नए अभियान 'सिंगल यूज प्लास्टिक' की घोषणा की थी। सूत्रों के अनुसार, 'सिंगल यूज प्लास्टिक' (single use plastic) अभियान 2 अक्टूबर यानि गांधी जयंती के दिन शूरू किये जाने का लक्ष्य  साधा गया हैं। इस अभियान को लेकर जनता और खासकर व्यपारियोंमे में बहुत उत्सुकता है और इस अभियान की सफलत को लेकर भी बहुत उम्मीदें हैं।
  • अंतरराष्ट्रीय सम्मान  - अपने पहले और शरू हुए दूसरे कार्यकाल में प्रधानमंत्री मोदी को राष्ट्रिय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उनके किये गए कार्यों की वजह से कई जगहों पर सम्मानित किया जा चुका है। 24 अगस्त, 2019 को उन्हें किंग हमाद ऑर्डर ऑफ रीनेसंस पुरस्कार, 8 जून, 2019 को उन्हें ऑर्डर ऑफ द डिस्टिंगाइश्ड रूल ऑफ इज्जुद्दीन पुरस्कार, 12 अप्रैल, 2019 को उन्हें ऑर्डर ऑफ सेंट ऐंड्रू पुरस्कार, 4 अप्रैल, 2019 को उन्हें ऑर्डर ऑफ जायेद पुरस्कार, 10 फरवरी, 2018 को उन्हें ग्रैंड कॉलर ऑफ द स्टेट ऑफ फिलिस्तीन पुरस्कार, 4 जून, 2016 को उन्हें स्टेट ऑर्डर ऑफ गाजी अमीर अमानुल्लाह खान पुरस्कार, 3 अप्रैल, 2016 को उन्हें ऑर्डर ऑफ अब्दुलअजीज अल सऊद पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका हैं। मोदी जी को दोनों कार्यकाल में कुल मिलाकर नौ अंतरराष्ट्रीय सम्मान प्राप्त हो चुके हैं। इनमें से चार पुरस्कार मुस्लिम देशों से आए हैं। इसके अलावा वे जल्द ही अमेरिका से भी सम्मानित होंगे। देश के किसी भी भारतीय प्रधानमंत्री द्वारा प्राप्त किया गया ये सर्वाधिक सम्मान है।
  • जल शक्ति मंत्रालय - जल ही जीवन है और इस सत्य को मानते हुए मोदी जी ने अपने दूसरे कार्यकाल की शुरुआत करने के बाद "मन की बात" से जल संरक्षण का मुख्य विषय शुरू किया हैं। जल संकट को देखते हुए केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने एक नया कदम उठाया है जिससे जल संरक्षण अभियान के नाम से बताया गया हैं। इस अभियान में शामिल किए गए 256 जिलों के 1592 खंड को दो चरणों में बांटा गया हैं। पहला 1 जुलाई, 2019 से 15 सितंबर, 2019 तक और दूसरा 1 अक्टूबर, 2019 से 30 नवंबर, 2019 तक शुरू होगा।
  • भ्रष्टाचार मुक्त सरकार- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने सरकार के 2 कार्यकालों में 2-जी स्कैम, कोयला स्कैम, कॉमनवेल्थ स्कैम, चॉपर स्कैम, आदर्श स्कैम के आरोपों से मुक्त मोदी सरकार बनाने का फैसला लिया। उनके सामने भ्रष्टाचार के कम मामले सामने आए।
  • जन-धन योजना- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2014 में जन-धन योजना की घोषणा के मकसद से देश के हर नागरिक को बैंकिंग सुविधा से जोड़ने की कोशिश की। इस योजना के तहत 31.31 करोड़ लोगों को फायदा भी मिला और दुनिया की सबसे बड़ी योजना में सबसे अधिक 1,80,96,130 बैंक खाते खोलने के लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया।
  • अन्य उपलब्धियां - जीएसटी का मतलब है एक राष्ट्र, एक टैक्स और पूरे देश में एक ही टैक्स व्यवस्था। साल 1991 के बाद से अर्थव्यवस्था और वित्तीय क्षेत्र में सुधार के लिए सबसे बड़ा कदम जिसे लागू करने में पिछली सरकार असफल रही। मोदी सरकार ने 1 जुलाई, 2017 को सामान और सेवा (जीएसटी) संसद के सेंट्रल हॉल में आधी रात को संसद के विशेष सत्र में शुरू किया था। उज्जवला योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले परिवारों को गैस कनेक्शन - एलपीजी कनेक्शन पहुंचाया गया और ग्रामीण महिलाओं को सशक्त भी किया गया। बीपीएल राशन कार्ड धारकों को मुफ्त में सेलेंडर दिया गया। डिजिटाइजेशन के तहत बैंकिंग आदि क्षेत्र में सरकारी कार्यों में डिजिटाइजेशन, डिजिटल भुगतान को आसान बनाने बनाने वाली भीम एप आदि शुरू की गयी।मुद्रा योजना के तहत गैर-कार्पोरेट, गैर-कृषि लघु-लघु उद्यमों को 10 लाख तक का ऋण वाणिज्यिक बैंक, आरआरबी, लघु वित्त बैंक, सहकारी बैंक, एमएफआई और एनबीएफसी आदि द्वारा प्रदान करने की योजना। उड़ान योजना का उद्देश्य आम आदमी को हवाई सेवा उपलब्ध कराना है। स्वच्छ भारत अभियान के तहत पूरे देश में सफाई के लिए विशेष कार्य किए गए हैं और जिसमें शौचालय निर्माण से लेकर कचरा निस्तारण जैसे विशेष प्रोजेक्ट्स चलाये गए हैं। पहल योजना के तहत  डायरेक्ट बेनीफिट ट्रांसफर्स के रूप में सब्सिडी सीधे बैंक खातों में जमा कराए जाने को लेकर फैसला किया गया है। पारदर्शिता योजना जिसमे कुछ बड़े प्रोजेक्ट्स जैसे कोयला ब्लॉक आंवटन में पारदर्शी नीलामी, पर्यावरण संबंधी मंजूरियों के लिए ऑनलाइन आवेदन, कई निविदाओं के लिए ऑनलाइन व्यवस्था की शुरुआत की गई हैं। कौशल विकास योजना के तहत कौशल विकास एवं उद्यमता मंत्रालय में देश के युवाओं को उद्योगों से जुड़ी ट्रेनिंग देना है जिससे उन्हें रोजगार पाने में मदद मिल सके।

Comments

Trending