Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Others Education & Jobs Cricket World Cup 2019 Scinece & Tech

JNU Election 2019 : जेएनयू में 6 सितंबर को होंगे छात्र संघ चुनाव

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय भारत का एक अग्रणी विश्वविद्यालय है तथा शिक्षण और शोध के लिए एक विश्व- प्रसिद्ध केंद्र है। राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (नैक) द्वारा भारत में अव्वल जेएनयू को माना जाता हैं। जेएनयू को वर्ष 2017 में भारत के राष्ट्रपति की ओर से सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय का पुरस्कार मिला।  जेएनयू अभी एक युवा विश्वविद्यालय है। सूत्रों से मिली ख़बरों के अनुसार, इस समय जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में छात्र संघ चुनाव की तैयारी चल रही हैं। 

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में छात्र संघ चुनाव 6 सितंबर को होने निश्चित हुए हैं। इस दिन विश्वविद्यालय में वोट डाले जायेंगे और वोटिंग होगी।  जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के चुनाव समिति के अध्यक्ष शशांक पटेल ने हाल ही में छात्र संघ चुनाव की तारीखों की घोषणा की। 

जेएनयू के अध्यक्ष पद के लिए सभी छात्र संगठनों के उम्मीदवारों के बीच प्रेसिडेंशियल डिबेट 4 सितंबर को होगी। जेएनयू छात्र संघ चुनाव के नतीजों की घोषणा  8 सितंबर को की जाएगी। हालांकि इस वर्ष पिछले साल के मुकाबले छात्र संघ चुनाव जल्दी हो रहे हैं। पिछले वर्ष 2018 ये चुनाव 14 सितंबर को हो गए थे और छात्र संगठनों के उम्मीदवारों के बीच प्रेसिडेंशियल डिबेट 12 सितंबर की रात को हुई थी।

इस साल जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में छात्र संघ चुनाव जबरदस्त कम्पटीशन हैं जिसमे विभिन्न छात्रों के समूह से संबंधित उम्मीदवारों के बीच कड़ी टक्कर है। 6 सितंबर 2019 को होने वाले इस इलेक्शन में कई मुद्दे  ख़ास होंगे जैसे अनुसूचित जाती, जेएनयूएसयू चुनाव 2019 में अनुच्छेद 370 को रद्द करने और एमबीए और इंजीनियरिंग कार्यक्रमों जैसे व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के लिए उच्च शुल्क और कैंपस में भाषण की स्वतंत्रता आदि। इन्ही चुनावों के प्रमुख मुद्दों के बल पर जीत तय होगी।

लेफ्ट पैनल एकजुट हुआ

स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI), ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (AISA), ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन (AISF) और डेमोक्रेटिक स्टूडेंट्स फेडरेशन (DSF) ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) को टक्कर देने के लिए एकजुट होकर लेफ्ट पैनल बनाने के लिए हाथ मिला लिया हैं। इस चुनाव में राष्ट्रपति पद की दौड़ में शामिल अन्य छात्र संगठन हैं - नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI), बिरसा अम्बेडकर फुले स्टूडेंट्स एसोसिएशन (BAPSA) और राष्ट्रीय जनता दल के छात्रसंघ। इस पद के लिए एक स्वतंत्र उम्मीदवार ने भी  जेएनयूएसयू के अध्यक्ष में अपना नामांकन दिया हैं। एकजुट होकर लेफ्ट पैनल के पद के लिए राष्ट्रपति पद के लिए आइशे घोष (Aishe Ghosh) ने अपना\ नाम दिया हैं। लेफ्ट पैनल के उम्मीदवार आइशे घोष (Aishe Ghosh) ने कहा कि,' जेएनयू में वामपंथियों का जुड़ाव कोई प्रतीकात्मक नहीं था, बल्कि ये उन कार्यकर्ताओं की रोजाना की कड़ी मेहनत का फल हैं जो पर हमने छात्र समुदाय और उनकी चिंताओं के बारे में लगायी हैं।

अध्यक्ष पद के लिए कुल 6 उम्मीदवार चुनावी और केंद्रीय पैनल के महासचिव, उपाध्यक्ष व उपसचिव पद के लिए कुल 8 उम्मीदवार इस बार आये हैं। यूनाइटेड लेफ्ट ने छात्रों के संघ में विभिन्न पदों के लिए निम्नलिखित सदस्यों को नामित किया है।


पार्टी / छात्र समूह/ उम्मीदवार का नाम/पद

  • स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI),ऐशे घोष, अध्यक्ष
  • डेमोक्रेटिक स्टूडेंट्स फेडरेशन (DSF),साकेत चंद्रमा, उपाध्यक्ष
  • ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (AISA),सतीश चंद्र यादव, महासचिव
  • ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन (AISF) मोहम्मद दानिश, संयुक्त सचिव 

पार्टी / छात्र समूह/ उम्मीदवार का नाम/पद

  • अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ,मनीष जांगिड़, अध्यक्ष
  • अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ,श्रुति अग्निहोत्री, उपाध्यक्ष
  • अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ,सबरीश , महासचिव
  • अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) .सुमंत कुमार साहू, संयुक्त सचिव 


जेएनयू छात्र संघ चुनाव के नियम 

हाल में जेएनयू छात्र संघ चुनाव के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने चुनाव के नियमों के आधार पर एक सर्कुलर जारी किया था। इसके तहत

  • उम्मीदवार मतदान केंद्रों के 100 मीटर तक के इलाके में मतदान के दिन प्रचार नहीं कर पाएंगे। 
  • सभी उम्मीदवारों को चुनाव में किये गए खर्चे का कुल और जीएसटी के साथ ब्यौरा देना होगा। 
  • उम्मीदवारों कोचुनाव में किये गए खर्चे का ब्योरा देने के लिए कुछ नियम बताये गए है जिसके अनुसार सभी बिलों पर विक्रेता का नाम, तिथि, विक्रेता का पैन नंबर और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) का ब्योरा देना जरूरी है।
  • जेएनयू के डीन ऑफ स्टूडेंट्स प्रोफेसर ने जेएनयू छात्र संघ चुनाव की पूरी प्रक्रिया को विस्तृत रूप से बताया गया है। 
  • उम्मीदवारी के लिए छात्रों को कौन-कौन सी शर्तें पूरी करनी होंगी, इसमें इस बात का भी जिक्र हैं जैसी आयु, उपस्थिति, आपराधिक पृष्ठभूमि आदि। 
  • उम्मीदवारों के लिए जारी आचार संहिता में कहा गया है कि उन्हें भ्रष्टाचार की गतिविधियों से दूर रहना है।

छात्र संघ चुनाव से जुड़ी महत्वपूर्ण तारीखें


  • 25 अगस्त - संभावित वोटर लिस्ट 
  • 26 अगस्त - वोटर लिस्ट में भुल सुधार शुरू होगी (समय - सुबह 9 से शाम 5 बजे) 
  • 26 अगस्त - नामांकन पत्र जारी किए जाएंगे
  • 27 अगस्त - नामांकन दाखिल किए जाएंगे (सुबह 9.30 से 5 बजे) 
  • 28 अगस्त - इसी दिन नामांकन वापिस लेने का समय सुबह 10 से 1 बजे तक होगा। उम्मीदवारों की अंतिम सूची जारी की जाएगी (समय - 3 बजे), सभी छात्र संगठनों के उम्मीदवारों की प्रेसवार्ता होगी। (शाम 4 बजे) 
  • 29 अगस्त - विभागों की जनरल बॉडी मीटिंग होगी (सुबह 10 बजे से)
  • 30 अगस्त - विभागों की जनरल बॉडी मीटिंग होगी (सुबह 10 बजे से) 
  • 2 सितंबर - विभागों की जनरल बॉडी मीटिंग होगी (सुबह 10 बजे से) 
  • 3 सितंबर - विश्वविद्यालय की जनरल बॉडी मीटिंग होगी (1 बजे से) 
  • 4 सितंबर - प्रेसिडेंशियल डिबेट (रात 9 बजे से) 
  • 5 सितंबर - इस दिन छात्र संगठन चुनावी प्रचार नहीं करेंगे। 
  • 6 सितंबर - मतदान का दिन (सुबह 9.30 बजे से दोपहर 1 बजे तक और सुबह 2.30 बजे से 5.30 बजे तक)
  • 6 सितंबर - मतों के गिनने का दिन (रात 9 बजे से)
  • 8 सितंबर - मतदान घोषित करने का दिन

Comments

Trending