Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Others Education & Jobs Cricket World Cup 2019 Scinece & Tech

Man vs Wild - पीएम मोदी ने किया बेयर ग्रिल्स के साथ एडवेंचर

डिस्कवरी चैनल के एडवेंचर शो 'मैन वर्सेज वाइल्ड (Man VS Wild)' के स्पेशल एपिसोड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) का बेयर ग्रिल्स (Bear Grylls) के साथ आना सभी के लिए रोमांचक था। 2 अगस्त को डिस्कवरी चैनल पर टेलीकास्ट हुए इस शो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेयर ग्रिल्स के साथ जंगल में खतरों से खेलते नजर आये और उन्होंने आपस में बातचीत भी की। पीएम नरेंद्र मोदी  के इस स्पेशल एपिसोड को उत्तराखंड के टूरिस्ट प्लेस और बहुत फेमस जगह जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क (Jim Corbett National Park) में शूट किया गया। इस शो का प्रसारण पूरे 180 देशों में किया जाएगा।

डिस्कवरी चैनल - मैन vs वाइल्ड शो  -Man vs Wild

इस शो में पीएम नरेंद्र मोदी के जीवन के कुछ अलग ही एपिसोड्स देखने को मिलें। इस एपिसोड से भारतीय जनता में तो ख़ुशी की लहर है लेकिन साथ ही इस एपिसोड को लेकर पाकिस्तान के लोगों का दर्द भी छलक रहा है। इस एपिसोड को बॉलीवुड हस्तियां भी बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहे थी। कई बॉलीवुड हस्तियों ने तो सोमवार को ही इस एपिसोड को देखने की अपनी बेकरारी सोशल मीडिया के जरिये जाहिर भी कर दिया था। 

डिस्कवरी चैनल के शो 'मैन वर्सेज वाइल्ड' (Man Vs Wild) में  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra modi) ने अपने जीवन के कुछ महतवपूर्ण पहलुओं पर बात की। उन्होंने शो के होस्ट बेयर ग्रिल्स को अपने नेचर लव के बारे में बताया और साथ ही अपने जीवन से जुड़े कई अनकहे किस्से भी बताये। उन्होंने इस शो के दौरान बात करते हुए बेयर ग्रिल्स मज़्ज़े करते हुए अपने एंडवेंचर के बारे में भी बताया। इस सभी बातों में पीएम मोदी के जीवन संघर्षों को लेकर विशेष बातचीत हुई। 

पीएम मोदी ग्रिल्स को अपनी मां के विषय में भी बात करते हुए थोड़ा सा इमोशनल होकर बताने लगे कि कैसे 97 उम्र होने के बाद भी उनकी माँ अभी भी अपने काम अब  स्वयं करती हैं। इसी बीच बातचीत का लाभ लेते हुए पीएम मोदी ने पर्यावरण संरक्षण और जलवायु परिवर्तन पर भी बात की। उन्होंने शो के प्रसारण से पहले कहा कि पर्यावरण संरक्षण और जलवायु परिवर्तन पर प्रकाश डालने के लिए इससे बेहतर तरीका कुछ नहीं हो सकता है।

पीएम मोदी (pm narendra modi) ने  शो के होस्ट बेयर ग्रील्स के ट्वीट का जवाब देते कहा 'पर्यावरण संरक्षण और जलवायु परिवर्तन पर प्रकाश डालने के लिए भारत के हरे भरे जंगल से बेहतर और क्या हो सकता है। आज रात को 9 बजे हमारे साथ जुड़े। बता दें ग्रील्स ने अपने इस ट्वीट में लोगों से इस शो को देखने के लिए अपील की थी।

इसके अलावा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (smriti irani) ने ट्वीट किया है, जिसमें उन्होनें दर्शकों से इस शो को देखने की अपील की है। 

शो होने के बाद बेयर ग्रिल्स (Bear Grylls) ने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट से शो को लेकर एक तस्वीर पोस्ट की है। इसमें उन्होंने पीएम मोदी (Narendra Modi) की तारीफों के पुल बांधे और साथ ही उन्होंने बताया कि पीएम मोदी बहुत ही महान वयक्ति हैं।  बेयर ग्रिल्स ने 'मैन वर्सेज वाइल्ड (Man Vs Wild)' का पोस्टर पोस्ट करते हुए लिखा, 'भारत के पीएम नरेंद्र मोदी के साथ मेरे सफर के बाद इतना बड़ा रिस्पांस देने के लिए आप सभी का बहुत शुक्रिया।सुंदर देश भारत में इस तरह के एडवेंचर करके मुझे बहुत गर्व महसूस हो रहा है। 

 बेयर ग्रिल्स की इस पोस्ट पर लोग खूब कमेंट कर रहे हैं और शो को लेकर अपने सवाल पूछ रहे हैं।

डिस्कवरी चैनल - मैन vs वाइल्ड शो   की कुछ खास बातें

1- इस दौरान ग्रिल्स ने मजाक किया, ''आप भारत के सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति हैं और मेरा काम आपको जीवित रखना है। शो के मेजबान और मेहमान के बीच बातचीत के दौरान मोदी ने कहा कि लोगों के सपने पूरे करने से उन्हें खुशी मिलती है और उनका पूरा ध्यान विकास पर है। एक सवाल के जवाब में प्रधानमंत्री ने कहा, ''मेरे पद का नशा कभी मेरे सिर पर नहीं चढ़ता।'

2- ग्रिल्स के शो में इससे पहले भी कई सेलिब्रेटी जैसे अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा भी आ चुके हैं।  शो के दौरान मेजबान ने प्रधानमंत्री मोदी से उनके बचपन, बतौर प्रधानमंत्री उनके सपने, जीवन में किसी चीज या बात से उन्हें कभी डर ना लगने की बात और राजनीतिक रैलियों से पहने नर्वस महसूस होने जैसी बातें साँझा की।  इसपर मोदी ने कहा कि नर्वस होने के बारे में वह कभी भी बेहतर जवाब नहीं दे सकते हैं क्योंकि उन्हें कभी इसका अनुभव नहीं हुआ है। मोदी ने कहा, ''मेरी दिक्कत यह है कि मैंने कभी ऐसा कोई डर महसूस ही नहीं किया है। मैं लोगों को यह समझाने में असमर्थ हूं कि नर्वस होना क्या है और इससे कैसे निपटें क्योंकि मेरी मूल प्रकृति बेहद सकारात्मक है। मुझे सभी चीजों में सकारात्मकता नजर आती है। और इसी वजह से मुझे कभी निराशा नहीं होती है।

3-  ग्रिल्स ने पीएम नरेंद्र मोदी  से बात करते हुए कहा कि युवा पीढ़ी के लिए यह बहुत बड़ा संदेश है। इसपर मोदी ने कहा, ''अगर मुझे आज की युवा पीढ़ी से कुछ कहना होगा तो मैं कहूंगा कि हमें अपने जीवन को टुकड़ों-टुकड़ों में बांट कर नहीं दखना चाहिए। जब हम अपने जीवन में समग्र में देखते हैं जो उसमें उतार चढ़ाव दोनों होता है। अगर आप उतार पर हैं तो उसके बारे में ज्यादा मत सोचिए, क्योंकि ऊपर चढ़ने का रास्ता वहीं से शुरू होता है।

4- पांच मील लंबी यात्रा के दौरान जब मेजबान और मेहमान नदी के पास आए तो ग्रिल्स ने प्रधानमंत्री को जुगाड़ से बनायी गयी नाव में बैठाया और खुद कमर भर पानी में उसे धक्का देते हुए दूर तक ले गए। नाव से उतरने के बाद दोनों ने वहां बैठकर करी पत्तों वाला पेय पिया। ग्रिल्स ने कहा, ''आप इतिहास के पहले प्रधानमंत्री होंगे जिन्होंने जुगाड़ वाली नाव पर बैठ कर नदी पार की है। शो में मोदी ने प्रकृति प्रेम के साथ जीवन, सिर्फ अपने फायदे के लिए प्रकृति का दोहन नहीं करने और उसे आने वाली पीढ़ी के लिए धरोहर छोड़कर जाने जैसे विषयों पर बात की। उन्होंने कहा कि दुनिया के लिए भारत का संदेश है 'वसुधैव कुटुंबकम।

5- ग्रिल्स ने पीएम नरेंद्र मोदी  से उनके प्रधानमंत्री बनने के सपने के बारे में पूछा। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि उनका ध्यान हमेशा से देश के विकास पर रहा है। उन्होंने कहा, ''मैं पहले एक राज्य का मुख्यमंत्री था। मैंने 13 साल बतौर मुख्यमंत्री काम किया है, जो मेरे लिए बिल्कुल नया रास्ता था। फिलहाल मेरे देश ने तय किया है कि मुझे यह काम करना है। इसलिए मैं इसे पिछले पांच साल से कर रहा हूं।

6- मोदी जी ने विकास को अहम बताते हुए कहा , ''लेकिन ध्यान हमेशा एक ही चीज पर रहा है, वह है विकास। और मैं उस काम से संतुष्ट हूं। आज, अगर मैं इसे छुट्टी मान लूं, तो मुझे यह कहना पड़ेगा कि मैं 18 साल में पहली बार छुट्टी ले रहा हूं। देश का प्रधानमंत्री बनने के बारे में ग्रिल्स ने उनसे पूछा, कि क्या आपको यह सब कभी सपने जैसा लगा।

7- मोदी जी ने कहा, ''मुझे यह कभी नहीं लगा कि मैं कौन हूं। मैं इससे ऊपर उठ चुका हूं और जब मैं मुख्यमंत्री था और अब जब मैं प्रधानमंत्री हूं, मैं सिर्फ अपने काम के बारे में और अपनी जिम्मेदारियों के बारे में सोचता हूं। मेरा पद कभी मेरे सिर पर चढ़कर नहीं बोलता है।'' बचपन को याद करते हुए मोदी ने कहा कि गरीबी के बावजूद उनका परिवार हमेशा प्रकृति से जुड़ा रहा।

8- मोदी ने कहा, यह जुड़ाव ऐसा था कि पैसा नहीं होने के बावजूद उनके पिताजी 20-30 पोस्टकार्ड खरीदते और अपने गांव में होने वाली पहली बारिश की खबर सभी रिश्तेदारों को देते। शो के दौरान लकड़ी से भाला बनाने वाले ग्रिल्स ने प्रधानमंत्री को जंगल में रहने वाले बाघों के बारे में चेताया तो इसपर मोदी ने कहा, ''ईश्वर सबका ख्याल रखते हैं।

9- मोदी ने कहा कि उनकी आस्था उन्हें किसी की जान लेने की इजाजत नहीं देती है, लेकिन वह अपने मेजबान के लिए भाला पकड़ने को तैयार हैं। मोदी ने कहा, ''आपको कभी भी प्रकृति से नहीं डरना चाहिए क्योंकि जब हमें लगता है कि प्रकृति के साथ हमारा सामंजस्य बिगड़ रहा है, समस्या वहीं से शुरू होती है।

10- यह पूछने पर कि क्या वह अच्छे छात्र थे, इसपर मोदी ने हंसते हुए कहा, ''मैं यह नहीं कह सकता कि मैं अच्छा छात्र था। उन्होंने कहा कि गरीबी के बावजूद उन्हें साफ-सुथरी वर्दी में स्कूल जाना पसंद था और वह तांबे के लोटे में कोयला जलाकर अपने कपड़े आयरन करते थे। मोदी ने कहा कि उन्होंने किशोर वय में ही घर छोड़ दिया था और बहुत समय हिमालय में गुजारा।

11- प्रधानमंत्री ने कहा, ''मैं अपने जीवन का फैसला करना चाहता था। लेकिन उससे पहले मैं दुनिया को समझना चाहता था। मैं आध्यात्मिक दुनिया को देखना चाहता था। उसके लिए मैं हिमालय गया। मुझे प्रकृति से प्रेम है। मैं हिमालय में लोगों से मिला, उनके साथ रहा। वह बहुत सुन्दर अनुभव है और मैंने वहां लंबा समय गुजारा।

12- ग्रिल्स के सवालों पर मोदी ने तालाब से मगरमच्छ का बच्चा पकड़कर घर लाने का किस्सा भी सुनाया। प्रधानमंत्री ने कहा, ''मेरी मां ने मुझसे कहा कि यह गलत है। आप ऐसा नहीं कर सकते। आपको ऐसा नहीं करना चाहिए, इसे वापस छोड़कर आएं। मैं उसे छोड़ने वापस चला गया।

Comments

Trending