Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Tales Facts Others Education & Jobs Cricket World Cup 2019 Science & Tech

ऑस्ट्रेलिया में डॉक्टरेट की उपधि से सम्मानित होंगे शाहरुख खान

भारतीय फ़िल्मी जगत के सुपरस्टार ‘किंग खान’ ने काफी नाम कमाया है और इसी बीच उन्हें ऑस्ट्रेलिया में ला ट्रोब विश्वविद्यालय में डॉक्टर ऑफ लेटर्स से सम्मानित किया जाएगा| बता दें कि यह सम्मान शाहरुख खान को देश में समाज के भलाई के लिए दिया जाएगा| इसका माजरा कुछ मीर फाउंडेशन से जुड़ा हुआ है|

You Might Also Like: बॉलीवुड अभिनेत्री अनन्या पांडे की सो पॉजिटिव आवाज के बाद इन्स्टाग्राम ने लांच किया एंटी-बुलिंग फीचर

You Might Also Like: रिपोर्टर ने कंगना को कहा झूठा, सान्ग रिलीज के दौरान दोनों के बीच हुआ घमासान

भारतीय फिल्म महोत्सव के दौरान मिलेगा सम्मान

शाहरूख खान ऑस्ट्रेलिया में होने वाले भारतीय फिल्म महोत्सव का एक बड़ा हिस्सा बनने जा रहे हैं| वहां, इन्हें मुख्य अतिथि के तौर पर बुलाया गया है| शाहरूख का कहना है की उनके द्वारा उठाए गए इस मानवता के कदम को पूरे देश में पहली बार सम्मानित किया जाएगा जो उनके लिए बहुत ही ख़ास है| ऑस्ट्रेलिया में स्थित लॉ ट्रोब विश्वविद्यालय उन्हें डॉक्टर ऑफ़ लेटर्स से पुरस्कृत करेगा| जब किंग खान से इस बारे में बात की गई तो उन्होंने कहा कि यह उनके गौरव की बात है|

क्या है मीर फाउंडेशन

मेरे फाउंडेशन भारत में एक ऐसा मंच है जो महिलाओं को उनके स्वतंत्र जीवन जीने में मदद करता है| इस फाउंडेशन का विशेष मुद्दा एसिड अटैक से पीड़ित महिलाओं का साथ देना है| यह फाउंडेशन सन 2013 में शुरू किया गया था|

इस फाउंडेशन का यह मानना है कि जब कोई महिला किसी विक्टिम का शिकार होती है तो उसे एक मित्र की आवश्यकता होती है जो उसका हौसला बढ़ा सके और उसे समाज में एक बार दुबारा से रहना सिखा सके| यह फाउंडेशन मुख्य तौर पर उन महिलाओं का ज्यादा खयाल रखता है जो किसी दुर्घटना में या साजिश बस एसिड अटैक का शिकार हुई हैं| ये फाउंडेशन ऐसी महिलाओं को जीने के लिए एक नई दुनिया का राह दिखाता है और उन्हें बताता है कि उनमें कोई कमी नहीं है और वे बेफिक्र इस जिन्दगी को जी सकती हैं|

शाहरूख बताते हैं कि उन्हें इस फाउंडेशन के चलाने की प्रेरणा उनके पिता से मिली जो हमेशा से ही महिलाओं को सम्मान दिलाने और उन्हें समाज में पुरुषों के बराबर लाने में जुटे रहते थे| वे महिलाओं के सम्मान से बहुत लगाव रखते थे|

इस फाउंडेशन ने कराई थी सर्जरी

5 मार्च 2019 में शाहरुख खान और मीर फाउंडेशन ने मिलकर एसिड अटैक से पीड़ित महिलाओं और जली हुई महिलाओं के चेहरे की सर्जरी कराने की शुरुआत की थी| इस कार्यक्रम में कई प्रदेश की महिलाएं शामिल हुई थीं|

एसिड पीड़ितों का इलाज दिल्ली के एक मशहूर अस्पताल बीएलके सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में इलाज कराया गया था| इसके साथ वाराणसी में स्थित जीएस मेमोरियल प्लास्टिक सर्जरी अस्पताल और ट्रॉमा सेंटर भी इस कार्यक्रम में अपना योगदान निभा रही थीं|

बताया गया कि इस योजना में दिल्ली, यूपी, बिहार, पश्चिम बंगाल, झारखंड और उत्तराखंड की लगभग 85 प्रतिशत ऐसी महिलाएं जो एसिड अटैक से पीड़ित हैं इलाज कराई थीं| इसके अलावा बच्चे भी इस मुहीम में शामिल थें|

शाहरूख को मिल चुका है क्रिस्टल अवार्ड

एसिड पीड़ितों की इस तरह मदद करने के खातिर शाहरुख खान को क्रिस्टल अवार्ड से भी सम्मानित किया गया है| यह अवार्ड शाहरुख को 2018 डेविस में आयोजित एक वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के दौरान दिया गया था|

Comments

Trending