Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Travel Today Tales Facts Others Education & Jobs Cricket World Cup 2019 Scinece & Tech

2017 नहीं उससे भी पहले शुरू हुआ था #MeToo, महिलाएं ही नहीं पुरुषों ने भी उठाई है आवाज

  1. MeToo केंपन की शुरूआत किस देश से हुई और किसने की

साल 2017 में अचानक सोशल मीडिया पर #MeToo किसी वायरस की तरह वायरल होने लगा था. दुनियाभर के कई देशों में #MeToo पर चर्चाएं शुरू हो गईं थी लेकिन यह कहां से आया? किसने शुरू किया और मुख्य रूप से आखिर Me Too क्या है जैसे सवाल लोगों के मन में उठ रहे थे. दरअसल, 2017 के अक्टूबर में हॉलीवुड एक्ट्रेस एलीसा मिलानो ने एक ट्वीट करते हुए लिखा था, Me Too, मेरे एक दोस्त द्वारा दी गई सलाह. अगर कोई भी महिला जो यौन उत्पीड़न का शिकार हुई है अपने स्टेटस में Me Too लिखती है तो हम इस समस्या के बारे में लोगों को बता सकते हैं.

जिसके बाद #MeToo एक वायरस की तरह फैला और हॉलीवुड समेत दुनिया के कई हिस्सों में पहुंच गया लेकिन आपको बता दें, #MeToo की शुरुआत एलीसा द्वारा 2017 में नहीं बल्कि उससे भी लगभग 10 साल पहले एक्टिविस्ट तराना ब्यूर्क द्वारा की गई थी. आपको बता दें, तराना द्वारा इस मूवमेंट की शुरुआत लगभग 10 साल पहले की थी. उन्होंने इसकी शुरुआत यौन दुर्व्यवहार से प्रभावित रंग की वंचित महिलाओं की सहायता के लिए की थी. 

उन्हें इसके लिए एक छोटी लड़की से इंस्पिरेशन मिली थी. जब वह 1996 में एक कार्यक्रम में शामिल हुई थीं. उस वक्त एक लड़की ने अपनी मां के ब्वॉयफ्रेंड द्वारा खुद के शोषण के बारे में बताया था. 

गौरतलब है कि एलीसा द्वारा सोशल मीडिया पर #MeToo की शुरुआत किए जाने के बाद हॉलीवुड की कई एक्ट्रेस ने हॉलीवुड के मशहूर डायरेक्टर और प्रोड्यूसर हार्ले वेन्स्टाइन के खिलाफ आवाज उठाई थी और अपने साथ हुए यौन शोषण पर बात करना शुरू की थी. जिसके बाद हार्ले वेन्स्टाइन पर कोर्ट में कार्रवाई के बाद उन्हें सजा भी सुनाई गई. 

You might also like: 11 साल बाद स्त्री की इस एक्ट्रेस ने तोड़ी चुप्पी, प्रोड्यूसर पर लगाए यौन शोषण के आरोप 

You might also like: संस्कारी आलोक नाथ पर पत्नी की सहेली ने लगाया रेप का आरोप, FB पर लिखी आपबीती

  1. महिलाएं ही नहीं पुरुषों ने भी बताई अपनी#MeToo स्टोरी

अक्सर ही ऐसा माना जाता है कि यौन शोषण की घटनाएं केवल महिलाओं के साथ होती हैं लेकिन ऐसा नहीं है. Me Too मूवमेंट के शुरू होने के बाद जहां एक ओर कई एक्ट्रेस ने अपने साथ हुए यौन शोषण पर आवाज उठाई और अपनी कहानी दुनिया को बताई. वहीं ऐसे ही कुछ पुरुष भी हैं जिन्होंने अपने साथ हुए शोषण की कहानियां सबके साथ शेयर कीं.

इंसाइडर द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक हॉलीवुड एक्टर टेरी क्र्यूस, ब्रेंडन फ्रेज़र, एंथनी रैप, जेम्स वान डेर बीक, माइकल गैस्टन और अलेक्जेंडर पोलिंस्क्या भी शोषित हुए हैं और इन एक्टर्स ने भी Me Too के जरिए अपने साथ हुए शोषण के बारे में बताया

  1. हॉलीवुड में शुरू हुआ'Times Up'

2017 में अचानक  Me Too के शुरू होने के बाद हॉलीवुड में हार्वे वाइन्स्टाइन के खिलाफ कई महिलाओं या एक्ट्रेस ने आवाज उठाई जिसके चलते एक ओर जहां हार्वे को उसी की कंपनी से निकाला गया. वहीं दूसरी ओर इसके असर से टाइम्स अप की भी शुरूआत हुई. इसकी शुरुआत 1 जनवरी 2018 से हुई और इस मूवमेंट को हॉलीवुड के कई बड़े सेलेब्स का साथ मिला. जिसके तहत शुरुआत में ही इस मूवमेंट को $20 मिलियन का लीगल फंड भी मिला. साथ ही यौन शोषण का शिकार हुई महिलाओं की मदद के लिए 200 वकील भी वोलन्टीयर के तौर पर आगे आए.

  1. अब तक  Me Too के कितने मामले आए सामने

फ्रीली मेगजीन में प्रकाशित एक खबर के मुताबिक फरवरी 2018 तक 15 अक्टूबर को जब एक्ट्रेस एलीसा मिलानो द्वारा इसे शुरू किया गया था तो उनके ट्वीट पर अपनी स्टोरी शेयर करते हुए इसे कम से कम 68,000 बार रीट्वीट किया गया था. वहीं फेसबुक पर इस पोस्ट को 85 देशों में 85 मिलियन बार पोस्ट किया गया था.

You might also like:  इस एक्ट्रेस ने #MeToo को बताया बकवास. कहा- यहां कोई रेप नहीं करता है, सब आपसी समझ से होता है

Comments

Trending