Bollywood Fashion Sports India Beauty Food Health Global Travel Today Tales Facts Others Education

क्या सेनेटरी नैपकिन के साथ प्रमोशन करना सही है ?

पिछली कुछ फिल्मो से अक्षय कुमार अपनी फिल्मो में सोशल मुद्दे को उठा रहे है और वह देश की जनता को जागरूक करते नजर आ रहे हैं। टॉयलेट एक प्रेम कथा में उन्होंने घर घर में शौचालय के होना का महत्व बताया जिस से देश की औरतो की परेशानी को कम किया जा सके और अब खिलाडी कुमार की अगली फिल्म है पैडमैन। फिल्म की प्रमोशन जोरो शोरो से चल रही हैं।

akshay kumar

फिल्म की कहानी एक सच्ची घटना पर आधारित है जहाँ भारत के अरुणाचल में  मुरगणनथनम ने ऐसे मशीन बनायीं थी जिस से देश भर की औरते अपनी माहवारी के दिनों में सेनेटरी पैड का इस्तेमाल कर सके। अक्षय कुमार की इस फिल्म में बताया जा रहा है की भारत में सिर्फ 18 % महिलाये ही पैड इस्तेमाल करती हैं। इसके साथ साथ हमारे देश में माहवारी के बारे में खुल के बात नहीं की जाती है और इससे एक तरह का कलंक माना जाता हैं। 

katrina

अक्षय ने अपनी फिल्म के प्रमोशन के लिए खुल कर इस बारे में बात की है और साथ साथ आज कल इंस्टाग्राम पर चाहे वो बॉलीवुड सेलिब्रिटी हो या टीवी स्टार फिर चाहे वो भोजपुरी अभिनेता क्यों न हो हर कोई हाथ में सेनेटरी पैड लेकर पोस्ट करता नजर आ रहा है की यह बिलकुल नार्मल है। इसमें शर्मिंदा होने की कोई बात नहीं हैं। 

deepika and aditi

यह बात जरूर है की अक्षय  की वजह से आज हमारा देश इस बारे  में खुल कर चर्चा कर रहा है लेकिन कुछ लोगों को इस प्रमोशन से परेशानी हो रही हैं |  लोगों का मानना है की प्रमोशन के लिए अक्षय और उनकी टीम काफी सेनेटरी नैपकिन को बर्बाद कर रहे है।  इस से अच्छा तो यह होगा की वह लोग इन सेनेटरी नैपकिन को प्रमोशन में न इस्तेमाल करके जरुरत मंद औरतो को उसको भेट स्वरुप दे दे। 

ayushman khurana

sonam

radhika

tv actres

actress

aamir

balaji

geeta



vani

आप लोगों का इस मुद्दे पर क्या विचार है  अपने कमेंट्स करके जरूर बताइएये !

Comments

Trending